अब हर विरोध प्रदर्शन में शामिल रहेंगे महात्मा गांधी

अब हर विरोध प्रदर्शन में शामिल रहेंगे महात्मा गांधी

-शहर में राष्ट्रपिता की प्रतिमा के अनावरण के साथ ही वहां पर विरोध प्रदर्शन शुरू -अब ह

Publish Date:Tue, 01 Dec 2020 06:54 PM (IST) Author: Jagran

-शहर में राष्ट्रपिता की प्रतिमा के अनावरण के साथ ही वहां पर विरोध प्रदर्शन शुरू

-अब हाशमी चौक की जगह बापू की प्रतिमा का स्थल ही हो जाएगा विरोध प्रदर्शनों का मुख्य केंद्र जागरण संवाददाता, सिलीगुड़ी : शहर में अब हर विरोध प्रदर्शन में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी शामिल रहेंगे। इसकी शुरुआत यहां मंगलवार से हो गई। शहर के कचहरी रोड में मुख्य डाक घर के निकट नवस्थापित महात्मा गांधी की प्रतिमा का बीते सोमवार को अनावरण हुआ और अगले ही दिन यानी मंगलवार से वहां विरोध प्रदर्शन का सिलसिला भी शुरू हो गया। इस दिन माकपा समर्थित ट्रेड यूनियन सीटू व अन्य वामपंथी ट्रेड यूनियनों ने संयुक्त रूप में महात्मा गांधी की प्रतिमा के निकट दिन भर धरना प्रदर्शन किया गया। केंद्र सरकार के नए कृषि विधेयकों के विरुद्ध यहां महात्मा गांधी की प्रतिमा के निकट विरोध प्रदर्शन की शुरुआत हुई। अब खबर है कि अन्य कई संगठनों ने भी गांधी प्रतिमा के निकट विरोध प्रदर्शन की बुकिंग यानी प्रशासनिक अनुमति की कवायद शुरू कर दी है। यदि ऐसा ही रहा तो आने वाले दिनों में शहर में विरोध प्रदर्शनों का केंद्र स्थल अब हाशमी की चौक की जगह महात्मा गांधी की प्रतिमा का स्थल हो जाएगा।

उल्लेखनीय है कि सिलीगुड़ी शहर के प्रमुख मार्गो में अब तक कहीं भी महात्मा गांधी की प्रतिमा नहीं थी। अब सिलीगुड़ी नगर निगम की ओर से कचहरी रोड में मुख्य डाक घर के निकट बापू की प्रतिमा स्थापित कर दी गई है। इसका अनावरण बीते सोमवार को हुआ जो बड़ा दिलचस्प रहा। इसलिए कि माकपा नीत वाममोर्चा संचालित नगर नगर निगम की ओर से इस प्रतिमा की स्थापना की गई है और इसका अनावरण राज्य की तृणमूल कांग्रेस सरकार के शहरी विकास व नगर पालिका मामलों के मंत्री फिरहाद हकीम ने किया। इस उपलक्ष्य में कांग्रेस के पश्चिम बंगाल प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष विधायक शंकर मालाकार और वाममोर्चा के अन्य कई नेता-जनप्रतिनिधि सम्मिलित हुए।

इस अवसर पर राज्य के शहरी विकास मंत्री फिरहाद हकीम ने कहा कि शहर में राष्ट्रपिता की प्रतिमा स्थापित किया जाना बहुत ही बेहतर हुआ। मगर, अब किसी और स्थान पर जहां काफी जगह हो वहां भी राष्ट्रपिता की प्रतिमा स्थापित की जानी चाहिए। इसके लिए जमीन देने को राज्य सरकार तैयार है। सिलीगुड़ी-जलपाईगुड़ी विकास प्राधिकरण (एसजेडीए) या अन्य किसी भी विभाग के माध्यम से सिलीगुड़ी नगर निगम को जमीन चाहिए तो वह बताए, राज्य सरकार हर सहयोग को तत्पर है। उन्होंने यह भी कहा कि बापू की प्रतिमा के आस-पास ज्यादा जगह रहेगी तो लोगों को काफी आसानी होगी।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.