दार्जिलिंग पुलिस कराएगी 3 दिसंबर को हाफ मैराथन

पुलिस के पदाधिकारी बच्चों को जागरूक करने का अभियान चला रहे -- संवाद सूत्रदार्जिलिंग स्वास्थ्य

JagranPublish:Thu, 25 Nov 2021 08:04 PM (IST) Updated:Thu, 25 Nov 2021 08:04 PM (IST)
दार्जिलिंग पुलिस कराएगी 3 दिसंबर को हाफ मैराथन
दार्जिलिंग पुलिस कराएगी 3 दिसंबर को हाफ मैराथन

पुलिस के पदाधिकारी बच्चों को जागरूक करने का अभियान चला रहे

--

संवाद सूत्र,दार्जिलिंग: स्वास्थ्य और खुशहाल समाज निर्माण में खेलकूद की अहम भूमिका होती है इसी के मद्देनजर दार्जिलिंग पुलिस खेल संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए विभिन्न तरह के खेलों का आयोजन करती है। इसी क्रम में 3 दिसंबर को हाफ मैराथन का आयोजन किया गया है। स्कूली बच्चों को प्रोत्साहित करने के लिए स्कूल कॉलेजों में जाकर पुलिस के पदाधिकारी बच्चों को जागरूक करने का अभियान चला रहे है। वर्तमान समय में बहुत अभिभावक है जो बहुत चिंतित हैं क्योंकि उनके बच्चे खेल के मैदान के बजाय मोबाइल और कंप्यूटर में अधिक खेल रहे हैं । मैदानी खेल के फायदे के बारे में जागरूकता की जितनी आवश्यकता आज है शायद या पहले नहीं थी। खेलने कूदने वाला समाज ही स्वस्थ और तंदुरुस्त समाज होता है स्वास्थ्य और प्रसन्नता एक दूसरे के पूरक हैं खेलकूद के स्पर्धा में भाग लेने वाले व्यक्ति का शरीर के साथ मानसिक विकास भी होता है ऐसे में गलत रास्ते में जाने की संभावना नाम मात्र ही होती है और वह देश के विकास में योगदान देता है।दार्जिलिंग पुलिस ने पूरे क्षेत्र को नशा मुक्त करने के लिए अनेकों कार्यक्त्रम का आयोजन किया है जिससे इस लत में पड़े लोगों को मुख्यधारा से जोड़ा जाए और विद्यार्थियों के लिए विशेष उच्च शिक्षा और कॉम्पिटेटिव परिक्षा के लिए भी पुलिस अधिकारी द्वारा स्कूलों में शिक्षा देने का कार्यक्त्रम निरंतर चल रहा है । इस प्रयास को सफल बनाने के लिए विद्यार्थी भी आगे बढ़ कर भाग ले रहे हैं । 3 दिसंबर को होने वाले आठवें पुलिस द्वारा आयोजित मैराथन में भाग लेने के लिए देश-विदेश के धावक भाग ले रहे हैं दार्जिलिंग में खेल संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए स्थानीय गैर राजनीतिक संस्था के साथ अनेकों लोग जुड़ रहे हैं जिससे आने वाली भावी पीढ़ी खेल से जुड़कर अपना भविष्य उज्जवल बना सके। आज सरकारी महाविद्यालय और साउथ फील्ड कॉलेज के विद्यार्थियों और शिक्षकों को जागरूकता कार्यक्त्रम के अंतर्गत विक्त्रम फाउंडेशन और सुमित्रा योगा पाठशाला और पुलिस के पदाधिकारियों द्वारा कार्यक्त्रम का आयोजन किया गया था जिस से प्रोत्साहित होकर बच्चे खेलकूद में भाग ले ।