कोरोना कहर जारी,अब आइपीएस ऑफिसर चपेट में

कोरोना कहर जारी,अब आइपीएस ऑफिसर चपेट में
Publish Date:Thu, 06 Aug 2020 09:22 PM (IST) Author: Jagran

-नहीं रूक रहा है मरीजों की मौत का सिलसिला

-पिछले 24 घंटे में चार और मरीजों की मौत

-40 नए संक्रमित मरीज भी मिले

-वार्ड 10 और 17 में सर्वाधिक मामले जागरण संवाददाता, सिलीगुड़ी: सिलीगुड़ी तथा आसपास के इलाके में कोरोना का कहर जारी है। क्या आम और क्या खास सभी कोरोना की चपेट में आ रहे हैं। इसी कड़ी में कोरोना कह चपेट में पुलिस अधिकारियों के भी आने का क्रम जारी है। गुरुवार को एक आईपीएस ऑफिसर कोरोना वायरस से संक्रमित पाई गईं। मिली जानकारी के अनुसार वह होम आइसोलेशन में हैं। पिछले दिनों पुलिस कमिश्नरेट के एसीपी समेत कई पुलिस अधिकारी व पुलिसकर्मी कोरोना की चपेट आ चुके हैं। कोरोना से संक्रमित 59 वर्षीय आईपीएस ऑफिसर सिलीगुड़ी पुलिस कमिश्नरेट में अहम पदों पर भी रह चुकी हैं।

दूसरी ओर कोरोना के नए मामलों में उतार-चढ़ाव के बीच संक्रमित मरीजों की मौत का सिलसिला गुरुवार को भी जारी रहा। गुरुवार को कोरोनावायरस संक्रमित चार मरीजों की मौत होने का मामला सामने आया है। इन चारों मरीजों की मौत उत्तर बंगाल मेडिकल कॉलेज व अस्पताल में हुई है। इनमें सिलीगुड़ी के सुकात पल्ली निवासी 76 वर्षीय व्यक्ति को सास लेने में दिक्कत की वजह से 4 जुलाई को उत्तर बंगाल मेडिकल कॉलेज और अस्पताल में भर्ती किया गया था। स्थिति गंभीर होने के चलते बीती रात उनकी मौत हो गई। मौत के बाद गुरुवार को आई कोरोना जाच रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई। वहीं सिलीगुड़ी महकमा के नक्सलबाड़ी प्रखंड अंतर्गत वीर ज्योत निवासी निवासी 35 वर्षीय मरीज को सास लेने में दिक्कत थी। परिजनों ने पाच अगस्त को उत्तर बंगाल मेडिकल कॉलेज अस्पताल रेस्पिरेटरी इंटेंसिव केयर यूनिट में भर्ती किया था। गुरुवार को उनकी मौत हो गई। मौत के बाद ही इनकी भी कोरोना जाच रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई। मेडिकल कॉलेज व अस्पताल के रिकु वार्ड में ही सिलीगुड़ी के देशबंधुपाड़ा निवासी 86 वर्ष से मरीज की मौत हो गई। सास लेने में दिक्कत के कारण परिजनों ने बीते बुधवार को मेडिकल अस्पताल में भर्ती किया था। मरीज की स्थिति गंभीर होने के चलते हैं बुधवार की रात मौत हो गई। मौत के बाद गुरुवार को आई कोरोना की जाच रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई। इसके अलावा मेडिकल अस्पताल में एक अन्य 36 वर्षीय मरीज की मौत होने का मामला सामने आया है। मिली जानकारी के अनुसार मृतक बिहार के किशनगंज जिले का निवासी था। इस तरह से अगस्त महीने में 6 दिनों के अंदर कोविड-19 अस्पताल, उत्तर बंगाल मेडिकल कॉलेज व अस्पताल, सिलीगुड़ी जिला अस्पताल तथा कुछ निजी नìसग होम में कोरोनावायरस संक्रमित 32 मरीजों की मौत हो चुकी है।

वहीं दूसरी ओर नए संक्रमित मरीजों के मिलने का सिलसिला भी जारी है। पिछले 24 घंटे में सिलीगुड़ी तथा आसपास के इलाके में 40 नए संक्रमित मरीज मिले हैं। बुधवार को सिलीगुड़ी नगर निगम क्षेत्र में कोरोना के कुल 27 मामले सामने आए। जबकि तीन मरीज नक्सलबाड़ी तो दस मरीज माटीगाड़ा में मिले हैं। इनमें इनमें दाíजलिंग जिले के अंतर्गत पड़ने वाले सिलीगुड़ी नगर निगम के वार्ड में 17 तथा जलपाईगुड़ी जिले में पड़ने वाले सिलीगुड़ी नगर निगम के वार्डो में 10 ज्यादा मामले सामने आए हैं। इस तरह से देखा जाए तो अगस्त महीने में 5 दिनों के अंदर कोरोनावायरस के 315 नए मामले सामने आए हैं। 32 मरीजों ने जीती जिंदगी की जंग

एक ओर जहां मरीजों की मौत हो रही है तो वहीं दूसरी ओर काफी संख्या में मरीज ठीक भी हो रहे हैं। पिछले 24 घंटे में 32 और मरीजों ने कोरोना से जिंदगी की जंग जीत ली है। इनमें से कुछ कोविड अस्पताल में तो कुछ होम आइसोलेशन में थे। जिलाधिकारी एस पोन्नाबल्लम ने भी इसकी पुष्टि की है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.