top menutop menutop menu

भगवा झंडा लगाने को लेकर भारी विवाद

भगवा झंडा लगाने को लेकर भारी विवाद
Publish Date:Wed, 05 Aug 2020 07:49 PM (IST) Author: Jagran

- तृणमूल और भाजपा समर्थकों में भिड़ंत

-बलाका मोड़ इलाके का माहौल गरमाया

-भारी संख्या में पहुंची पुलिस ने संभाली स्थिति जागरण संवाददाता, सिलीगुड़ी : कोरोना वायरस संक्रमण को लेकर राज्य में जारी लॉकडाउन के बीच सिलीगुड़ी शहर एवं आसपास इलाके में एक ओर जहां बंद शांतिपूर्ण रहा वहीं दूसरी ओर अयोध्या में भूमि पूजन के उपलक्ष्य में झंडा लगाने को लेकर बवाल मच गया। यह घटना सिलीगुड़ी नगर निगम के 32 नंबर वार्ड स्थित बलाका मोड़ इलाके में हुई है। इस विवाद में तृणमूल कांग्रेस व भाजपा समर्थकों के बीच जमकर बवाल हुआ। तृणमूल कांग्रेस ने भाजपा पर हमला करने का आरोप लगाया है। घटना की जानकारी मिलते ही भारी संख्या में एनजेपी थाना की पुलिस मौके पर पहुंची और स्थिति को नियंत्रित किया। पुलिस ने इस मामले में दो भाजपा समर्थकों को गिरफ्तार किया है।

मिली जानकारी के अनुसार बुधवार सुबह राम जन्मभूमि के भूमि पूजन के उपलक्ष्य में कुछ भाजपा समर्थक बलाका मोड़ में भगवा व हनुमान जी का झंडा लगाने पहुंचे। वहां पहले से मौजूद तृणमूल समर्थकों के साथ उनकी भिड़ंत हो गई। इसी दौरान दुकान खोलने को लेकर स्थानीय व्यवसायियों के बीच भी नोकझोंक हो गई। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंचकर स्थिति को सामान्य किया। क्या कहना है तृणमूल का

इधर तृणमूल युवा कांग्रेस के सदस्य सायन मित्र (बुल्टन) ने कहा कि भाजपा समर्थक लॉकडाउन के बीच शराब के नशे में झडा लगा रहे थे। उनके दुकान के सामने झडा लगाने का विरोध किया। उसके बाद ही वेलोग मारपीट करने लगे। उन्होंने कहा कि अगर उन्हें झंडा लगाना था तो कुछ दिन पहले लगाते। लॉकडाउन के बीच इस प्रकार का कार्य करना कानून का उल्लंघन करना है। क्या कहना है भाजपा का

वही दूसरी ओर सिलीगुडी भाजपा युवा मोर्चा के जिला सचिव प्रीतम सिंह ने बताया कि तृणमूल कांग्रेस शुरू से ही विरोधी राजनीति कर रही है। जो लोग झंडा लगा रहे थे, वे शराब के नशे में नहीं थे। आज हिदू समाज के लिए कितना ऐतिहासिक दिन है, इसे वे लोग नहीं समझ रहे हैं। इलाके के लोगों डराया धमकाया जा रहा है। हनुमान जी तस्वीर या भगवा झंडा लगाना कोई गलत नहीं है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.