ममता ने विकास कार्यो को गिनाकर भाजपा पर साधा निशाना

ममता ने विकास कार्यो को गिनाकर भाजपा पर साधा निशाना

आसनसोल आसनसोल के सेनरेले स्टेडियम में तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी ने गुरुवार को चुन

JagranThu, 22 Apr 2021 08:03 PM (IST)

आसनसोल : आसनसोल के सेनरेले स्टेडियम में तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी ने गुरुवार को चुनावी सभा के दौरान बीते दस सालों में तृणमूल सरकार द्वारा किए गए विकास कार्यों को गिनाया। उन्होंने सभा से हिदी भाषियों को भी साधने की कोशिश की। कहा कि हिदी भाषी मतलब भाजपा नहीं होता है। अगर ऐसा होता तो दिल्ली में भी भाजपा की भी सरकार होती। इसलिए यह कहना कि हिदी भाषी मतलब भाजपा यह गलत बात है। आसनसोल एक मिनी भारतवर्ष है। यहां सभी धर्म के लोग भाईचारे के साथ रहते हैं। आसनसोल एवं दुर्गापुर में काफी विकास कार्य किए गए हैं। यहां पुलिस कमिश्नरेट, जिला गठन, विश्वविद्यालय, अंडाल एयरपोर्ट, स्टेडियम, स्कूल, कॉलेज बनाया गया। रानीगंज के 29 हजार धंसान प्रभावितों के लिए घर बनाए गए। पानागढ़ में इंडस्ट्रियल पार्क बनाया। यहां जलापूर्ति योजना पर 350 करोड़ खर्च किए गए। 14 करोड़ से बाराबनी में जल परियोजना बनाई जा रही है। सड़कें बनाई गई है। ड्रेनेज के लिए 100 करोड़ खर्च किए जा रहे हैं। अल्पसंख्यकों के लिए एक करोड़ 80 लाख से हॉस्टल बनाया जा रहा है। महिला थाना, काफी हाउस, गेस्ट हाउस, जिला अदालत, दो हजार टन का खाद्य गोदाम बनाया गया। कुछ बाकी नहीं है, सबकुछ हुआ है। बाकी सिर्फ भाजपा की विदाई है। किसान हित के लिए काला किसान बिल वापस लेना होगा। कहा कि भाजपा को वोट दिया तो आपकी नौकरी भी नहीं रहेगी। रेल को 75 फीसद निजी किया जा रहा है। देश में 10 करोड़ बेरोजगार बढ़ेंगे। हमलोगों ने दो करोड़ को रोजगार दिया। हर साल मोदी सरकार ने दो करोड़ नौकरी देने का वादा कर छह साल में 12 करोड़ को बेरोजगार किया है। इसलिए सभी को एकजुट होकर लड़ना होगा। उन्होंने कहा कि राशन फ्री में मिल रहा, स्वास्थ्य साथी कार्ड से इलाज फ्री में हो रहा है।

.......

भाषण रोक की मलय से गुफ्तगू

ममता बनर्जी ने भाषण शुरू करने के कुछ देर बाद ही भाषण रोक दिया। उसके बाद राज्य के श्रम व कानून मंत्री सह प्रत्याशी मलय घटक से गुफ्तगू की। उसके बाद फिर से भाषण शुरू किया।

.....

ममता ने मांगा फुटबॉल, नहीं मिला

सभा के दौरान ममता बनर्जी ने पूछा फुटबॉल है, लेकिन आयोजक ने कहा, नहीं। राज्य के कई स्थानों पर ममता को मंच से फुटबॉल से खेलते हुए देखा गया था। लेकिन ममता यहां निराश हुई।

.....

विधान की जगह लिया माणिक का नाम

भाषण के दौरान ममता बनर्जी विभिन्न क्षेत्र के उम्मीदवारों का नाम लेने में लड़खड़ा गईं। इस दौरान बाराबनी से तृकां प्रत्याशी विधान उपाध्याय की जगह वह उनके दिवंगत पिता माणिक उपाध्याय का नाम बोल गर्इं। मंच पर बाराबनी प्रत्याशी विधान उपाध्याय, चेयरपर्सन अमरनाथ चटर्जी, अभिजीत घटक, युवा नेता देवांशु भट्टाचार्या थे। सभ का संचालन बबीता दास ने किया।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.