भाजपा कार्यकर्ताओं पर बंद हो अत्याचार

भाजपा कार्यकर्ताओं पर बंद हो अत्याचार

दुर्गापुर चुनाव परिणाम आने के बाद से लगातार भाजपाइयों को निशाना बनाया जा रहा है। जिले क

JagranSun, 09 May 2021 12:50 AM (IST)

दुर्गापुर : चुनाव परिणाम आने के बाद से लगातार भाजपाइयों को निशाना बनाया जा रहा है। जिले के अन्य हिस्सों के साथ-साथ दुर्गापुर शहर में भी भाजपाइयों के घरों पर हमले व मारपीट जैसी घटनाएं हुई है। जिसका आरोप तृणमूल कांग्रेस पर लगा है। ऐसी अशांति रोकने व घटना को अंजाम देने वालों के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर शनिवार को भाजपा की ओर से दुर्गापुर थाने के समक्ष प्रदर्शन किया गया व ज्ञापन भी दिया गया। पुलिस से निष्पक्ष ढंग से कार्रवाई की मांग की गई। अगर अत्याचार बंद नहीं हुआ तो अब भाजपा भी विरोध में सड़क पर उतरेगी। मौके पर दुर्गापुर पश्चिम के विधायक लखन घोरूई, भाजपा नेता कर्नल दीप्तांशु चौधरी आदि शामिल थे।

लखन घोरूई ने कहा कि चुनाव परिणाम घोषणा के बाद से ही पूरे बंगाल में तृणमूल आश्रित गुंडे व लूंगी धारी मस्तान भाजपा समर्थकों के घरों में तोड़फोड़ व आगजनी को अंजाम दे रहे हैं। बच्चे, महिलाओं, वृद्धों को भी नहीं छोड़ा जा रहा है। घर में लूटपाट की जा रही है। बार-बार पुलिस से अनुरोध के बाद भी घटना कम नहीं हो रही है। धोबीघाट, एमएएमसी, इस्पातनगरी, 14, 22, 30 नंबर वार्ड में अत्याचार चल रहा है। लेकिन पुलिस अंकुश नहीं लगा पाई है। तृणमूल से भी अत्याचार बंद करने का अनुरोध किया था। तृणमूल के लोग अराजक तत्वों को उकसा कर ऐसी घटना को अंजाम दिलवा रहे हैं। मुंह में गमछा बांधकर ऐसी घटनाएं हो रही है। बाध्य होकर दुर्गापुर थाना एवं पुलिस उपायुक्त को ज्ञापन देने आए। आज से अत्याचार बंद नहीं हुआ तो जीटी रोड व रास्ता जामकर विरोध प्रदर्शन व प्रतिवाद करने को बाध्य होंगे। अगर कोई अशांति होती है तो फिर पुलिस जिम्मेदार होगी। दीप्तांशु चौधरी ने कहा कि तृणमूल के आश्रित गुंडे सामान्य लोगों पर हमला कर रहे हैं। संसदीय राजनीति में हार-जीत होती है। जो जीतेगा, वह मारपीट शुरू कर देगा, ऐसा नहीं होना चाहिए। आज महिलाएं, बच्चे दहशत में हैं। 150-200 लोग घर छोड़कर फरार हैं। सभी को बर्दाश्त करने की एक क्षमता होती है। हमें भी रास्ता पर उतरना होगा। मनुष्य को मारकर राजनीति ठीक नहीं है। मौके पर भोला साव समेत अन्य लोग मौजूद थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.