रवांई के समग्र विकास के लिए रखा उपवास

रवांई के समग्र विकास के लिए रखा उपवास

रवांई (यमुना घाटी) के समग्र विकास करने को लेकर जन अभियान मंच के बैनर तले ब्लॉक मुख्यालय में चौपाल लगाकर एक दिन का उपवास रखा।

JagranSun, 28 Feb 2021 10:14 PM (IST)

संवाद सूत्र, नौगांव : रवांई (यमुना घाटी) के समग्र विकास करने को लेकर जन अभियान मंच के बैनर तले ब्लॉक मुख्यालय में चौपाल लगाकर एक दिन का उपवास रखा। उपवास में सभी दलों के प्रतिनिधियों और सामाजिक कार्यकत्र्ताओं ने मिलकर रवांई जन मांग पत्र प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री को भेजा।

चौपाल में जनमंच के संयोजक विजेंद्र सिंह रावत ने कहा कि रवांई क्षेत्र विकास के लिए जनमंच तैयार कर आमजन की जिदगी में बेहतरी लाने के लिए केंद्र और राज्य सरकार समेत क्षेत्र के चुने हुए जनप्रतिनिधियों के साथ करीबी समन्वय से काम करेगी। इस मौके पर प्रधानमंत्री के लोकल फॉर वोकल सिद्धांत पर समाज सेवा से जुड़े समाज सेवियों ने चौपाल में पहाड़ के विकास की योजनाएं पहाड़ के अनुरूप बनाने के लिए उपहास रखा। राज्य आंदोलनकारी रविन्द्र जुगरान ने कहा कि सरकारी तंत्र की जड़ों में भ्रष्टाचार कैंसर की तरह काम कर रहा है। जिससे पहाड़ों का विकास आगे नहीं बढ़ पा रहा है। उन्होंने पहाड़ के विकास के लिए चौपाल के माध्यम से आंदोलन चलाने की बात कही। इस अवसर पर रवांई घाटी की इन समस्याओं को उठाया गया। जिनमें बेस अस्पताल निर्माण, बागवानी एवं जड़ी बूटी प्रशिक्षण संस्थान खोलने, प्रगतिशील बागवानी का सलाहकार बोर्ड बनाने, कृषि बागवानों को उचित दर पर बीज, खाद, कीटनाशक, पौधे व बागवानी उपकरण देने। यमुनाघाटी को पृथक जिला बनाने, ऑलवेदर सड़क को हरबर्टपुर से बड़कोट (यमनोत्री) तक जोड़ने की मांग की गई। चौपाल कार्यक्रम में अभियान के महासचिव कुंवर जपेन्द्र सिंह, नगर पंचायत अध्यक्ष शशि मोहन राणा, पूर्व जिपं अध्यक्ष सकल चन्द रावत, जयदेव शाह, पूर्व मंत्री नारायण सिंह राणा, एलपी सेमवाल, कबूल पंवार, जगदीश असवाल, प्राचार्य आरएस असवाल आदि मौजूद थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.