डीएसओ के खिलाफ जिपं अध्यक्ष ने सीएम को लिखा पत्र

डीएसओ के खिलाफ जिपं अध्यक्ष ने सीएम को लिखा पत्र

रुद्रपुर में डीएसओ के खिलाफ धरना जारी। जिला पंचायत अध्यक्ष ने भी सीएम को पत्र लिख कार्रावाई की मांग की।

Publish Date:Fri, 04 Dec 2020 09:57 PM (IST) Author: Jagran

जागरण संवाददाता, रुद्रपुर : डीएसओ की नीतियों से आजिज विभिन्न संगठन एकजुट हो रहे हैं। जिला पंचायत अध्यक्ष ने भी डीएसओ को जिले से हटाने के लिए मुख्यमंत्री के नाम पत्र लिखा है। धरना प्रदर्शन के दौरान विभिन्न संगठनों ने अपना समर्थन जाहिर किया है। वहीं, एडीएम जेसी कांडपाल ने एक बार फिर से कर्मचारियों को वार्ता के लिए आमंत्रित किया है।

डीएसओ श्याम आर्या से परेशान जिले के पूर्ति निरीक्षकों का धरना प्रदर्शन लगातार जारी है। कलेक्ट्रेट के बाद एआरटीओ कार्यालय के सामने धरना प्रदर्शन कर रहे कर्मचारियों का कहना है कि मांग पूरी होने तक वह आंदोलन व कार्य बहिष्कार पर अटल हैं। जिले में खाद्यान्न अनियमितताओं के वाहक को वह किसी भी हाल में बर्दाश्त नहीं करेंगे। पूर्ति विभाग कर्मचारी संघ के प्रदेश महामंत्री विनोद चंद्र तिवारी ने बताया कि शुक्रवार को विभिन्न संगठनों की ओर से उन्हें समर्थन मिला है। इसमें सस्ता गल्ला विक्रेता संघ, राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद, फेडरेशन आफ मिनिस्ट्रियल सर्विसेज आदि की ओर से समर्थन प्राप्त हुआ है। पूर्ति निरीक्षक अनीता तिवारी ने पत्र दिखाकर बताया कि जिला पंचायत अध्यक्ष रेनू गंगवार ने मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को पत्र लिखकर डीएसओ श्याम आर्या का स्थानांतरण अन्यत्र करने की मांग की है। इस मौके पर पूर्ति निरीक्षक आशुतोष भट्ट, हरीश चंद्र, विष्णु त्रिवेदी, हेमा बिष्ट, अनीता तिवारी, कृष्ण कुमार बिष्ट, हयात सिंह, धर्मेंद्र सिंह धामी, हीरा बल्लभ जोशी, चंद्र शेखर कांडपाल, फतेह खान आदि मौजूद थे।

..

कांग्रेसियों ने मुख्यमंत्री के नाम भेजा ज्ञापन

संस, गदरपुर : किसान हित एवं स्वामित्व योजना से जुड़े मुद्दों को लेकर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री को संबोधित चार सूत्री ज्ञापन तहसीलदार को सौंपा। इस दौरान कांग्रेसियों ने दिल्ली में चल रहे किसानों के धरना प्रदर्शन का समर्थन किया।

शुक्रवार को कांग्रेस नेता राजेंद्र पाल सिंह के नेतृत्व में दर्जनों कांग्रेस कार्यकर्ता तहसील मुख्यालय पर एकत्र हुए। जहां उन्होंने प्रदेश सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर तहसीलदार भूपेंद्र सिंह चौहान को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा। कांग्रेस नेता राजेंद्र पाल ने कहा कि शासनादेश के अनुसार 3.25 एकड़ भूमि से अधिक की भूमि की पत्रावली को शासन में स्वीकृति हेतु भेजने की व्यवस्था की गई है जो कि 2016 के शासन में दी गई व्यवस्था के अनुसार जनपद मुख्यालय से ही होनी चाहिए। ज्ञापन देने वालों में ग्राम प्रधान संघ के अध्यक्ष गुरविदर सिंह विर्क, कांग्रेस प्रदेश सचिव इंद्रपाल सिंह संधू, शराफत अली मंसूरी, शैलेंद्र शर्मा, रईस अहमद, किशोर सामंत, मोहित चौहान, गोविद सिंह रावत, अजय गाबा, सन्नी हुड़िया, राजेश बाबा, नबी जान, बलबीर सिंह, राज किशोर सैनी, केतन सुखीजा, ताराचंद, राहुल कुमार आदि थे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.