लोगों ने मनाई दिवाली, जगमग हुई तराई

लोगों ने मनाई दिवाली, जगमग हुई तराई

रुद्रपुर में अयोध्या में भगवान श्रीराम मंदिर भूमि पूजन के अवसर पर तराई में दीवाली जैसा उत्साह दिखा।

Publish Date:Wed, 05 Aug 2020 09:25 PM (IST) Author: Jagran

जागरण संवाददाता, रुद्रपुर : अयोध्या में भगवान श्रीराम मंदिर भूमि पूजन के अवसर पर तराई में दीवाली जैसा उत्साह दिखा। इस मौके पर लोगों ने घरों व मंदिरों में सूर्यास्त होते ही देशी घी के दीये जलाए। जगह-जगह विभिन्न संस्थाओं ने प्रसाद वितरण किए। इस दौरान रामसेवकों को सम्मानित किया गया।

अयोध्या नगरी दिवाली की तरह सजी और बुधवार को प्रधानमंत्री ने श्रीराम मंदिर निर्माण का भूमि पूजन किया तो उस समय जिले में भी श्रीराम के जयकार गूंजने लगे थे। इस खुशी में रुद्रपुर बाजार स्थित पांच मंदिर में भाजपा जिलाध्यक्ष शिव अरोरा ने कार्यकर्ताओं के साथ हनुमान चालीसा का पाठ किया गया। इसके बाद भाजपा जिलाध्यक्ष की ओर से सम्मान समारोह हुआ। शिव अरोरा ने अक्टूबर, 1991 व छह दिसंबर 1992 को अयोध्या में कार सेवा के लिए गए मनीष अग्रवाल, राजकुमार, गुलाब सिरोही, कीमती राणा, अनिल अग्रवाल, राजेंद्र बजरंगी, संदीप धीर, सुभाष रस्तोगी, ओमप्रकाश ठुकराल, विजय कुमार मौर्य, राजकिशोर मौर्य, हंस पाल सिरोही, हरभजन अरोरा, रमेश जिदल आदि को सम्मानित किया। इस मौके पर मेयर रामपाल सिंह, गुरमीत सिंह, महेश बब्बर,ललित मिगलानी, हरिचंद मीणा, विजय, नंदलाल, वेद ठुकराल, सुशील यादव, सुनील यादव, डिपी चोपड़ा, महावीर कश्यप, राज कोली, मयंक कक्कड़, आलोक शील, ललित बिष्ट, डॉ महेश कोली मौजूद थे।

इधर, उत्तरांचल पंजाबी महासभा के युवा प्रदेश अध्यक्ष भारत भूषण चुघ ने अपने निवास स्थान पर एवं आस पास के क्षेत्रों में हनुमान ध्वज फहराया। इस मौके पर तरुण चुघ, कपिल कालड़ा, चंदर चुघ, पारस चुघ, सन्नी चुघ, विजय आदि मौजूद थे। बिगवाड़ा सब्जी मंडी, आढ़ती एवं फल सब्जी विक्रेताओं ने भव्य मंदिर निर्माण के भूमि पूजन अवसर पर प्रसाद वितरण कार्यक्रम किया। इस दौरान आढ़ती एसोसिएशन के हिमांशु मिड्डा, आशु मिड्डा आदि मौजूद थे। राम जन्मभूमि पर मंदिर निर्माण के लिए देश के प्रधानमंत्री व संतों द्वारा भूमि पूजन पर प्रांतीय उद्योग व्यापार मंडल ने सब्जी मंडी में सैकड़ों व्यापारियों के साथ मिष्ठान वितरण किया। इस अवसर पर अध्यक्ष संजय जुनेजा, महामंत्री हरीश अरोरा, सुरमुख सिंह विर्क, मनोहर डाबरा आदि व्यापारी उपस्थित थे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.