पुरानी रंजिश के चलते हुए फायरिंग, एक व्‍यक्ति की हुई मौत; दो घायल

बाजपुर जेएनएन। वर्चस्व को लेकर चली आ रही पुरानी रंजिश में एक बार फिर खून-खराबा हो गया, जिसमें एक पक्ष ने शूटरों के माध्यम से ताबड़तोड़ गोलियां बरसाकर दूसरे पक्ष के बुजुर्ग की हत्या कर दी, जबकि उसका बेटा बुरी तरह घायल हो गया। एकाएक हुई फायरिंग से पूरे क्षेत्र में दहशत फैल गई है। मौके पर भारी संख्या में उत्तराखंड व उप्र के पुलिस अधिकारी व फोर्स पहुंच गई। घटना को लेकर तनाव बरकरार है। घटना सुल्तानपुर पट्टी में प्रदेश की सीमा से सटे उप्र में हुई है।

सुल्तानपुर पट्टी के वार्ड नंबर-7 मोहल्ला आदर्शनगर निवासी डा. हनीफ (60) पुत्र अब्दुल हकीम का इसी मोहल्ले से सटे उप्र के अंतर्गत मिलक नौखरीद निवासी खलील पहलवान पुत्र भूरा के परिवारों में बर्चस्व की जंग चली आ रही है। जिसमें 14 जुलाई को खलील पहलवान की हत्या हो गई थी, इसमें डा. हनीफ के दो पुत्र सहजाद आलम, जावेद आलम तथा उनका साथी टिपलू का नाम सामने आया था, जोकि वर्तमान समय में जेल में बंद हैं। वहीं इसी विवाद को लेकर रविवार की सुबह फिर से खून-खराबा हुआ।

बताया जाता है कि डा. हनीफ के घर पर कुरआन खानी का आयोजन था। सुबह करीब 9:30 बजे डा. हनीफ घर से थोड़ी दूरी पर स्थित है दुकान पर सामान लेने गए थे। बताया जाता है कि इसी बीच दो गाड़ियों में सवार होकर आए आधा दर्जन शूटरों ने हनीफ को घेर लिया और ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी, जिसमें हनीफ मौके पर ही गिर गए और कुछ ही देर में दम तोड़ दिया। गोली की आवाज सुनकर हनीफ का लड़का रिजवान उर्फ गुड्डू घर की छत पर चढ़ा तो उसने पिता को लहूलुहान पड़ा देखा। उसने भी जवाबी कार्रवाई करते हुए फायरिंग शुरू कर दी। 

बताया था कि हमलावरों ने रिजवान पर भी फायर झोंक दिए जिसमें वह गंभीर रूप से घायल हो गया है। घटना को अंजाम देकर हमलावर गाड़ियों में सवार हो कर फरार हो गए। अचानक हुई फायरिंग की घटना से पूरे क्षेत्र में दहशत फैल गई। जानकारी से पुलिस प्रशासन में भी हड़कंप मच गया। बाजपुर कोतवाल जीबी जोशी, नासिर हुसैन, चौकी प्रभारी अशोक कुमार के साथ ही एएसपी स्वर रामपुर राहुल कुमार, कोतवाल स्वर सुधीर कुमार, कोतवाल टांडा ध्रुव कुमार, चौकी प्रभारी मसवासी राजेश कौशिक, एसआई राजेश यादव भारी संख्या में फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए।

तब तक वहां हजारों की संख्या में लोगों की भीड़ जमा हो चुकी थी तथा स्थिति तनावपूर्ण बनी थी। पुलिस ने घटनास्थल पर पड़े करीब 3 दर्जन कारतूस बरामद किए हैं। साथ ही पंचनामा भरकर शव पोस्टमार्टम के लिए रामपुर भेज दिया है। वहीं गंभीर रूप से घायल फिरोज आलम उर्फ फौजी को बाजपुर सीएससी ले जाएगा, जहां से प्राथमिक उपचार के बाद चिकित्सकों ने उसे हायर सेंटर के लिए रेफर कर दिया है। घटना को लेकर मौके पर स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है तथा भारी संख्या में फोर्स तैनात है। डॉक्टर हनीफ के परिजन इस घटना को अंजाम देने में खलील पहलवान के बेटे रिजवान उर्फ गुड्डू, फरमान पुत्र साबिर हुसैन तथा उसके 3-4 अन्य साथियों को शामिल बता रहे हैं।

यह भी पढ़ें: धर्मगुरु समेत दो की हत्या के तीन दोषियों को उम्रकैद की सजा

यह भी पढ़ें: हरिद्वार में युवक की गला दबाकर हत्‍या की, पुलिस कर रही जांच

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.