ऑलवेदर रोड कटिग से हो सकती है यात्रियों को परेशानी

जागरण संवाददाता, नई टिहरी: चारधाम यात्रा में ऑलवेदर रोड निर्माण कार्य परेशानी का सबब बन सकता है। ऋषिकेश से उत्तरकाशी और बदरीनाथ राजमार्ग पर इन दिनों ऑलवेदर रोड का काम चल रहा है। ऐसे में यात्रियों को निर्माण कार्य के दौरान परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। जब से सड़क का काम शुरू हुआ है। तभी से कटिग के कारण ट्रैफिक को रोकना पड़ रहा है। वहीं सड़क पर मलबा पड़े होने से भी कई स्थानों पर रोड संकरी हो गई है। इस परेशानी को देखते हुए संभागीय परिवहन विभाग ने भी शासन को पत्र भेजकर निर्माण कार्य रात में करवाने के बाबत लिखा है। लेकिन अभी शासन से इस संबंध में कोई निर्देश नहीं आए हैं।

ऑलवेदर रोड निर्माण का काम तेजी से चल रहा है। मई पहले सप्ताह से शुरु होने जा रही चारधाम यात्रा के दौरान निर्माण कार्य के चलते देश और दुनिया भर से चारधाम यात्रा में आने वाले यात्रियों को परेशानी हो सकती है। ऋषिकेश से चंबा और उसके बाद धरासू और उत्तरकाशी ऑलवेदर रोड का काम चल रहा है। वहीं बदरीनाथ रोड पर भी तेजी से कार्य किया जा रहा है। चारधाम यात्रा के प्रमुख इन दो मार्गो पर निर्माण कार्य के दौरान मलबा आने के कारण हर दिन ट्रैफिक रोका जाता है। यात्रा के दौरान भी अगर कटिग का काम होता रहा तो यात्रियों को जाम की समस्या झेलनी पड़ेगी। मलबा पड़ा होने के कारण मार्ग बेहद संकरा हो गया है और कहीं कहीं पर भी बड़े बड़े गड्ढे भी वाहन चालकों के लिए परेशानी का सबब बने हैं। इस परेशानी को देखते हुए एआरटीओ टिहरी ने भी शासन को पत्र भेजकर निर्माण कार्य के दौरान कटिग का काम रात में करवाने के बाबत लिखा है। हालांकि इस संबंध में 27 मई को डीएम की अध्यक्षता में बैठक होनी है। यात्रा के दौरान रात में कटिग का काम करने के संबंध में शासन को पत्र भेजा है। अभी वहां से निर्माण कार्य के संबंध में कोई निर्देश जारी नहीं किए गए हैं।

निखलेश ओझा, एआरटीओ टिहरी गढ़वाल यमुनोत्री हाइवे पर गड्ढों से खतरा

नैनबाग: दिल्ली यमुनोत्री राष्ट्रीय यात्रा मार्ग 507 में बने बड़े-बड़े गड्ढे चारधाम यात्रा के दौरान यात्रियों के लिए खतरा बन सकते हैं। राष्ट्रीय राजमार्ग पर गड्ढों के कारण हर वक्त दुर्घटना का खतरा बना है। वहीं धूल उड़ने से भ्ज्ञी वाहन चालकों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। स्थानीय निवासियों का भी कहना है कि यात्रा के दौरान मार्ग की हालत सही की जानी चाहिए। खजान सिंह , प्रवीन नौटियाल ने कहा कि सुरक्षित उत्तराखंड का नारा सरकार दे रही है लेकिन ऐसी सड़कों पर खतरा बना है। वहीं इस संबंध में यमुनोत्री राजमार्ग के अधिशासी अभियंता नवनीत पांडे का कहना है कि गड्ढों को भरने का काम चल रहा है। यात्रा शुरू होने से पहले मार्ग की हालत सही कर दी जाएगी।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.