top menutop menutop menu

कलक्ट्रेट में धरने पर बैठे पूर्व विधायक आर्य

कलक्ट्रेट में धरने पर बैठे पूर्व विधायक आर्य
Publish Date:Wed, 05 Aug 2020 03:00 AM (IST) Author: Jagran

संवाद सहयोगी, नई टिहरी: घनसाली के पूर्व विधायक भीमलाल आर्य भिलंगना ब्लॉक की समस्याओं को लेकर कलक्ट्रेट में धरने पर बैठ गए। उनका कहना है कि लंबे समय बाद भी जब समस्याओं का निराकरण नहीं हुआ तो मजबूरन उन्हें धरने पर बैठना पड़ रहा है।

मंगलवार को घनसाली के पूर्व विधायक भीमलाल आर्य कार्यकर्ताओं के साथ कलक्ट्रेट पहुंचे और नारेबाजी कर धरने पर बैठ गए। भीमलाल आर्य का कहना था कि पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार में क्षेत्र के लिए जो पुल, सड़कें स्वीकृत हुई थी, उन पर कार्य नहीं हो रहे हैं। क्षेत्र में दूरसंचार, स्वास्थ्य, सड़क, विद्युत आदि की समस्याएं बनी है, जिनका अभी तक समाधान नहीं हो पाया। उन्होंने मांग की कि क्षेत्र की लंबित सड़कों का निर्माण कार्य जल्द शुरू किया जाए। घनसाली के अंतर्गत सभी निर्माण कार्यों की स्थलीय निरीक्षण तथा निविदा प्रक्रिया की जांच की जाए। पूर्व निर्मित छतियारा-सेंदुल ग्राम समूह पेयजल योजना से दूषित पेयजल की आपूर्ति हो रही है, इसकी तकनीकी जांच करवाई जाए। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बेलेश्वर व प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पिलखी को आधुनिक उपकरणों के साथ विशेषज्ञ चिकित्सकों की तैनाती की जाए। ब्लाक के सीमांत गांव गंगी, गेंवली, पिसवाड़, मेड, मरवाड़ी में वर्षों से कनेक्टिविटी की समस्या बनी है। यहां पर मोबाइल टावर लगाए जाएं। टिहरी बांध से प्रभावित घनसाली क्षेत्र सहित अन्य प्रभावित क्षेत्रों के लिए डैम के ऊपर से चौबीस घंटे आवागमन की सुविधा हो। घनसाली क्षेत्र को पिछड़ा क्षेत्र घोषित किया जाए। इस मौके पर सुंदर सिंह रावत, अरूणोदय, मुरारीलाल खंडवाल, देव सिंह, प्रदीप रमोला, मनमोहन सिंह आदि मौजूद थे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.