दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

वनराजियों की परेशानी देख ग्राम प्रधान ने वैक्सीनेशन के लिए दिया अपना भवन

वनराजियों की परेशानी देख ग्राम प्रधान ने वैक्सीनेशन के लिए दिया अपना भवन

वनराजियों की परेशानी देखते हुए ग्राम प्रधान ने टीकाकरण के लिए अपना भवन दे दिया है।

JagranSat, 15 May 2021 10:44 PM (IST)

संवाद सूत्र, डीडीहाट: प्रदेश की एकमात्र आदिम जनजाति वनराजि परिवारों के समक्ष आ रही टीकाकरण की समस्या को देखते हुए ग्राम प्रधान ने वैक्सीनेशन सेंटर के लिए अपना भवन प्रशासन को उपलब्ध करा दिया है। वैक्सीनेशन सेंटर बन जाने के बाद अब वनराजियों को अब डीडीहाट के चक्कर नहीं काटने होंगे।

वनराजि गांव मदनपुरी, कूटा, जमतड़ी के ग्रामीणों को वैक्सीनेशन के लिए 40 किलोमीटर की दूरी तय करनी पड़ रही थी। आर्थिक रू प से विपन्न इस जनजाति के लोगों को आने जाने में 200 रुपये तक खर्च करने पड़ रहे थे। जागरण ने वनराजियों की इस समस्या को प्रमुखता से उठाया था।

वनराजियों के वैक्सीनेशन में आ रही इस दिक्कत को देखते हुए ग्राम प्रधान महेश कन्याल ने देवीसूना में अपने तीन कमरे का भवन वैक्सीनेशन सेंटर के लिए तहसील प्रशासन को सौंप दिया है। भवन में बिजली, पानी, बैठने के लिए पर्याप्त स्थान उपलब्ध है। उपजिलाधिकारी केएन गोस्वामी ने भवन में वैक्सीनेशन सेंटर बनाए जाने के लिए स्वीकृति दे दी है। देवीसूना में वैक्सीनेशन सेंटर खुल जाने पर वनराजि परिवारों को डीडीहाट नहीं आना पड़ेगा, उन्हें अपने गांव के नजदीक ही टीकाकरण की सुविधा मिलने लगेगी। =========== दारमा, व्यास, चौदांस घाटियों में कोरोना किट उपलब्ध कराएगी रं कल्याण संस्था

धारचूला: रं कल्याण संस्था धारचूला तहसील क्षेत्र की दारमा, व्यास और चौदांस घाटी में कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए सक्रिय हो गई है।

शनिवार को तहसील मुख्यालय में हुई बैठक में तय हुआ कि तीनों घाटियों के अंतर्गत आने वाले गांवों में अब संस्था की ओर से कोरोना किट वितरित की जाएगी। हर घर में ऑक्सीमीटर और थर्मामीटर उपलब्ध कराए जाएंगे। इसके साथ ही गरीब परिवारों को संस्था अपने संसाधनों से राशन उपलब्ध कराएगी। धारचूला से रेफर किए जाने वाले कोरोना मरीजों के साथ जाने वाले तीमारदारों के लिए पिथौरागढ़ और हल्द्वानी में स्थित रं भवन में व्यवस्था की जाएगी। पिछले दिनों उच्च हिमालयी क्षेत्र की ओर जाने के दौरान मौसम खराब होने से मारी गई भेड़ों के पालकों को आर्थिक सहायता दिए जाने का निर्णय बैठक में लिया गया। बैठक में कोरोना से उपजी विषम परिस्थितियों पर चर्चा की गई और जागरू कता अभियान तेज करने का निर्णय लिया गया। संस्था लोगों को शारीरिक दूरी का पालन करने, मास्क पहनने के लिए जागरू क करेगी। बैठक की अध्यक्षता विशन सिंह बोनाल ने की। बैठक में संरक्षक नृप सिंह नपच्याल, भवान सिंह सौनाल, विक्रम रौंकली, हितेंद ह्यांकी, सोमी दुग्ताल, कृष्णा गब्र्याल, राम सिंह ह्यांकी, गजेंद्र बुदियाल, दयान रायपा, नरेंद्र पतियाल, मगन नपच्याल, प्रदीप गुंज्याल योगेश गब्र्याल, महेंद्र सिंह बुदियाल आदि मौजूद रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.