top menutop menutop menu

नाहर देवी में गोरी नदी कभी भी बदल सकती है रुख, लोगों में दहशत

मुनस्यारी, जेएनएन : उच्च हिमालयी मल्ला जोहार के चौदह गांवों में नाहर देवी के पास गोरी नदी के टर्न लेने का खतरा सता रहा है। बीआरओ अपनी संपत्ति्त बचाने के लिए लापरवाह बना है तो जनता की समस्या सुनने के लिए मुनस्यारी में कोई प्रशासनिक अधिकारी नहीं है।

मुनस्यारी-मिलम के बीच सड़क निर्माण का कार्य अभी पूरा नहीं हुआ है। माइग्रेशन करने वाले उच्च हिमालयी चौदह गांवों के ग्रामीण अभी भी पैदल मार्ग से ही आवाजाही करते हैं। माइग्रेशन के दौरान किसी के बीमार पड़ने और आवश्यक सामान के लिए ग्रामीणों को 40 से 66 किमी पैदल चल कर मुनस्यारी आना पड़ता है। मुनस्यारी-मिलम मार्ग पर मुनस्यारी से लगभग 30 किमी दूर नाहर देवी एक ऐसा दुर्गम स्थल है जहां पर नदी से सट कर गगनचुंबी चट्टानों की जड्र पर मार्ग है। विकल्प कुछ नहीं होने से मिलम तक बीआरओ द्वारा बनाई गई सड़क भी पैदल मार्ग को ही काट कर बनाई गई है।

नाहर देवी में दोनों तरफ चट्टान होने से गोरी नदी के तट संकरे हैं। नदी का जलस्तर बढ़ते ही नदी सड़क को काट देगी। इसी के साथ इस मार्ग पर नाहर देवी के चट्टान के पास आवाजाही बंद हो जाएगी। उच्च हिमालय के चौदह गांव अलग-थलग पड़ जाएंगे। पूर्व में भी इस तरह की नौबत आ चुकी है। दूसरी तरफ आपदाग्रस्त मुनस्यारी में इस समय प्रशासन को संभालने के लिए कोई अधिकारी नहीं है। धारचूला के एसडीएम को तीन तहसीलों का कार्यभार दिया गया है। धारचूला से मुनस्यारी की दूरी 93 किमी है। बीते दिनों यहां पर तैनात तहसीलदार कार्यभार ग्रहण करने के एक सप्ताह बाद अवकाश पर चले गए हैं। नायब तहसीलदार के जिम्मे सर्वाधिक आपदाग्रस्त तहसील का जिम्मा है।

मल्ला जोहार विकास समिति के अध्यक्ष श्रीराम धर्मशक्तू का कहना है कि चीन सीमा से लगे 14 गावों के ग्रामीणों को अपने हाल पर छोडृ दिया गया है। सेना, आइटीबीपी का सामान तो हेलीकॉप्टर से पहुंचा दिया जाएगा। ग्रामीणों की सुध कौन लेगा। इसे लेकर समिति परेशान है। उन्होंने कहा है कि प्रशासन से समय से उचित कदम नहीं उठाए तो समिति मुनस्यारी में आंदोलन प्रारंभ कर देगी। ======== मुनस्यारी में मानसून काल में हो रहे नुकसान की पूरी अपडेट लेते हुए जनता की परेशानी को दूर करने के लिए उचित कदम उठाए जा रहे हैं। जनता को किसी तरह की परेशानी नहीं होने दी जाएगी।

- एके शुक्ला, प्रभारी एसडीएम, मुनस्यारी

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.