top menutop menutop menu

आपसी समन्वय के साथ स्वरोजगार को दें बढ़ावा

संवाद सहयोगी, पौड़ी: उच्च शिक्षा राज्यमंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने अधिकारियों को समन्वय के साथ स्वरोजगार को बढ़ावा दिए जाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि सरकार ग्राम पंचायत स्तर पर युवाओं को रोजगार से जोड़ने के लिए लगातार प्रयास में जुटी है। उन्होंने अधिकारियों को मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना पर विशेष रूप से फोकस करने के निर्देश दिए।

विकास भवन सभागार में उच्च शिक्षा राज्यमंत्री डॉ. रावत ने विधानसभा क्षेत्र श्रीनगर के विकास कार्यों की समीक्षा बैठक ली। इस मौके पर उन्होंने कहा कि राठ विकास अभिकरण, जिला योजना, सहकारिता आदि विभागों के अधिकारी समन्वय के साथ विकास कार्यों व स्वरोजगार को बढ़ावा दें। डॉ. रावत ने कहा कि श्रीनगर विधानसभा क्षेत्र में 20 से 25 सेब व अखरोट के बगीचे तैयार किए जाएंगे। साथ ही 90 प्रतिशत अनुदान के तहत 300 के पॉली हाउस भी लगाए जाएंगे। कहा कि खिर्सू-राठखाल राजकीय उद्यान को मुख्यमंत्री राज्य कृषि विकास योजना के तहत बागवानी पर्यटन के रूप में विकसित किया जाएगा। जहां विविध प्रजाती के फलों की बागवानी तथा अन्य गतिविधि को विकसित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि सरकार मुख्यमंत्री मोटर साइकिल स्वरोजगार योजना के तहत 60 हजार से 1 लाख 25 हजार तक मोटर साइकिल के लिए ऋण दे रही है। डीएचओ डॉ. नरेंद्र कुमार ने बताया कि 879 पॉली हाउस में संरक्षित खेती पर कार्य किया जा रहा है। इस अवसर पर सिचाई सलाहकार परिषद के उपाध्यक्ष अतर सिंह असवाल, भाजपा जिलाध्यक्ष संपत सिंह रावत, प्रदेश उपाध्यक्ष सहकारिता मातबर सिंह रावत, डीसीबी अध्यक्ष नरेन्द्र सिंह रावत, अध्यक्ष राठ विकास अभिकरण शंकर सिंह रावत, , प्रभारी सीडीओ एसएस शर्मा, डीडीओ वेद प्रकाश, उप वन संरक्षक एके वर्मा आदि मौजूद थे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.