Convocation of NIT: एनआइटी उत्तराखंड का दूसरा वर्चुअल दीक्षा समारोह, 27 मेधावियों को स्वर्ण पदक

Convocation of NIT एनआइटी उत्तराखंड का दूसरा वर्चुअल दीक्षा समारोह शनिवार को आयोजित हुआ। इसमें बीटेक के 434 और एमटेक के 138 छात्र-छात्राओं ने वर्चुअल मोड पर ही उपाधि प्राप्त की। वहीं 27 मेधावियों को स्वर्ण पदक दिया गया।

Raksha PanthriSat, 25 Sep 2021 06:24 PM (IST)
एनआइटी उत्तराखंड का दूसरा वर्चुअल दीक्षा समारोह, 27 मेधावियों को स्वर्ण पदक।

जागरण संवाददाता, श्रीनगर गढ़वाल। Convocation of NIT राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान (एनआइटी) उत्तराखंड का दूसरा वर्चुअल दीक्षा समारोह शनिवार को आयोजित हुआ। इसमें बीटेक के 434 और एमटेक के 138 छात्र-छात्राओं ने वर्चुअल मोड पर ही उपाधि प्राप्त की। मुख्य अतिथि और रक्षा क्षेत्र के प्रख्यात वैज्ञानिक जवाहरलाल नेहरू विवि दिल्ली के कुलाधिपति डा. विजय कुमार सारस्वत ने वर्ष 2020 का डायरेक्टर्स गोल्ड मेडल मानसी कैंतुरा को और 2019 का डायरेक्टर्स गोल्ड मेडल सुधांशु भंडारी को वर्चुअल ही प्रदान किया। वहीं एनआइटी के 27 मेधावियों को स्वर्ण पदक दिया गया।

एनआइटी के बोर्ड आफ गवर्नर्स के चेयरमैन और देश के प्रसिद्ध टेक्नोक्रेट डा. रविंद्र कुमार त्यागी ने बीटेक और एमटेक के 25 मेधावी छात्रों को गोल्ड मेडल प्रदान किए। संबंधित विभागाध्यक्षों ने अन्य छात्र-छात्राओं को उपाधियां प्रदान की। मुख्य अतिथि डा. विजय कुमार सारस्वत ने सर्विस टू सोसाइटी को प्राथमिकता देने पर जोर देते हुए कहा कि जीवन में आगे बढ़ने और सफलता प्राप्त करने को लेकर अनुशासन, ईमानदारी और लगन के साथ कठोर परिश्रम अमूल्य पूंजी होती है। डा. विक्रम साराभाई, डा. सतीश चंद्र, डा. अब्दुल कलाम और डीआरडीओ के वैज्ञानिकों की ओर से विज्ञान और टेक्नोलाजी के क्षेत्र में और डा. सर्वपल्ली राधाकृष्णन ने शिक्षा और देश व समाज हित में किए गए कार्यों को अभूतपूर्व बताया।

एनआइटी के बोर्ड आफ गवर्नर्स के चेयरमैन डा. आरके त्यागी ने कहा कि सुमाड़ी में स्थायी परिसर निर्माण को 600 करोड़ रुपये स्वीकृत हो चुके हैं। निदेशक डा. सतीश कुमार ने संस्थान में पिछले तीन वर्षों में चार करोड़ की लागत से सृजित अनुसंधान सुविधाओं पर प्रकाश डालते हुए कहा कि छात्रों को बेहतर प्लेसमेंट 37 लाख तक के पैकेज भी मिल रहे हैं। एनआइटी के कुलसचिव डा. प्रभाकरमणि काला ने संस्थान की ओर से अतिथियों का आभार जताया।

इन्हें मिला गोल्ड मेडल

2016 एमटेक के अंकित चंदा, रामकृष्ण कोपान्नति, गोवरा मुरली कृष्ण, देबू श्रीकांत, अंजली झा को, 2017 बैच के विकास सुंद्रियाल, रेशू वर्मा, कीर्ति गुप्ता, परब गजनन अर्जुन, शिवानी चौहान, 2018 बैच के संदीप, कंचन बिष्ट, सुनील कुमार मौर्य, भावी अरोड़ा, अभिषेक श्रीवास्तव और बीटेक 2015 बैच के सुधांशु भंडारी, राधामोहन द्विवेदी, दिनेश सिंह गुर्जर, संयुक्ता गांगुली, अजय सिंह कनवाल, 2016 बैच के अखिलेश सिंह, बरखा माहेश्वरी, मानसी कैंतुरा, दिव्या सिंह, कीर्तिका शर्मा को गोल्ड मेडल मिला।

यह भी पढ़ें- उत्‍तराखंड में नौवीं से 12वीं तक छात्रों को मिलेंगी मुफ्त किताबें, पढ़िए पूरी खबर

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.