वॉइस ऑफ इंडिया फेम पवनदीप राजन का कोरोना पर गाया गाना मचा रहा धूम

वॉइस ऑफ इंडिया फेम पवनदीप राजन का कोरोना पर गाया गाना मचा रहा धूम
Publish Date:Sun, 20 Sep 2020 08:04 AM (IST) Author: Skand Shukla

अल्मोड़ा, जेएनएन : कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच युवा रचनाकार मनमोहन सिंह मनु का लिखा गीत और 'वॉइ'स ऑफ इंडिया' फेम पवनदीप राजन की सुरीली आवाज महासंकट से उबरने का हौसला दे रही। यू ट्यूब पर खासा पसंद किए जा रहे इस गाने में अल्मोड़ा के अंतरराष्‍ट्रीय शटलर बंधु लक्ष्य व चिराग सेन समेत 51 खिलाड़ी अपने अपने अंदाज में कोरोना को हराने के लिए खुद को शारीरिक एवं मानसिक रूप से फिट रखने का संदेश दे रहे हैं।

लॉकडाउन में रचनाकार मनमोहन सिंह मनू ने गीत लिखा- 'कोरोना सुन ले तू...'। उसे आवाज दी 'वॉइस ऑफ इंडिया' फेम पवनदीप राजन ने। पवनदीप के लोकगायक पिता सुरेश राजन ने संगीत दिया। अल्मोड़ा के युवा प्रतिभाशाली जफर खान ने पूरी वीडियो रिकॉर्डिग की एडिटिंग की। महासंकट कोरोना को हराने के लिए तैयार गीत व वीडियो में अल्मोड़ा के मशहूर बैडमिंटन खिलाड़ी बंधू लक्ष्य व चिराग सेन, प्रशिक्षक पिता धीरेंद्र सेन समेत 51 से ज्यादा युवा व वेटरन खिलाडिय़ों व उनके परिजन इस गीत का हिस्सा बने। लॉकडाउन में सभी पात्रों ने अपने अपने वीडियो क्लिप तैयर किए। जफर ने एडिट कर पांच मिनट का वीडियो तैयार किया। जो अब यू-ट्यूब पर धमाल मचा रहा।

 

खास बात कि गीत लिखने से लेकर अलग अलग क्लिप्स को एडिट कर उसे एक संपूर्ण वीडियो का रूप देने में सभी ने निश्शुल्क योगदान दिया। अब ये गीत 'ओ कोरोना सुन ले तू, हमको हरा न पाएगा। हो भले तू बाहुबली हमको न झुका पाएगा...। तू झुका लेगा हमें इतना तुझमे दम नहीं है, भले छोटे मगर हम किसी से कम नहीं। हम खिलाड़ी, हमें हारना आता नहीं, सामने आ जाए कोई वीर घबराता नहीं..., खिलाडिय़ों, बच्चे बड़ों को शारीरिक व मानसिक रूप से मजबूत बना रहा।

 

अब शहीद राहुल के लिए बनाया गीत

युवा रचनाकार मनमोहन सिंह मनु ने अब देश के लिए सर्वस्व न्यौछावर करने वाले जांबाज शहीद राहुल रंस्वाल के लिए गीत लिखा है। इसे भी पवनदीप राजन ने ही अपनी आवाज दी है। संगीत पिता सुरेश राजन के बजाय खुद ही दिया है। बीती बुधवार को रिलीज इस गीत के जरिये नौजवानों में देशभक्ति का जज्बा पैदा कर भारतीय फौज से जुडऩे का संदेश दिया गया है। मूल रूप से चंपावत निवासी जांबाज राहुल बीती जनवरी में दक्षिणी कश्मीर में पुलवामा के पंपोर इलाके में एक आतंकी को ढेर कर इस सपूत ने देश की खातिर अपना सर्वोच्च बलिदान दे दिया था। पवनदीप ने सुरीली आवाज से देवभूमि के साथ ही वीर सपूत को जन्म देने वाली चंपावत की भूमि का बखूबी वंदन किया है। शहीद राहुल के त्याग व बलिदान का चित्रण कर गीत भावुक कर देता है।

 

कबूतरी देवी से लोकगायिकी व संगीत की प्रेरणा मिली

पवनदीप के संगीतकार पिता सुरेश राजन ने बताया क‍ि लोक गायिकी के क्षेत्र में आठ साल की उम्र में कदम रखा। मौसेरी सास कबूतरी देवी से लोकगायिकी व संगीत की प्रेरणा मिली। मनमोहन सिंह मनू चंपावत से परिचित हैं। उन्होंने गीत लिखा। मनू साहब के लिखे करीब 13 गीतों को पवनदीप आवाज दे चुके। रिलीज हालांकि तीन हुए हैं। भविष्य में गाते रहेेंगे। हमने चंपावत में ही स्टूडियो खोल लिया है। इसमें भी मनमोहन जी का सहयोग रहा। पवनदीप को उन्होंने ही प्रोत्साहित किया। मोबाइल के जरिये इतना शानदार वीडियो बनाकर यू ट्यूब में प्रसिद्धि दिलाई। अब शहीद के लिए भावुक गीत लिख वीर सपूत को सच्ची श्रद्धांजलि दी है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.