घर वापसी करेगा नैनीताल जू भेजा गया बाघ

घर वापसी करेगा नैनीताल जू भेजा गया बाघ

कार्बेट पार्क से नैनीताल जू भेजा गया बाघ घर वापस लौटेगा। इस बाघ ने पिछले साल दो वन कर्मियों को हमला कर मार दिया था

Publish Date:Mon, 30 Nov 2020 10:38 PM (IST) Author: Jagran

-पिछले साल ढिकाला में बाघ ने दो वन कर्मियों को मार दिया था

-ढेला में बन रहे रेस्क्यू सेंटर में लाकर रखा जाएगा बाघ

फोटो: 30 आरएमएनपी-01

रेस्क्यू के दौरान बेहोश बाघ फाइल फोटो

संस,रामनगर: कार्बेट पार्क के ढिकाला जोन से नैनीताल जू भेजा गया खूंखार बाघ अब घर वापसी करेगा। अब वह जंगल में नही बल्कि पाच करोड़ रुपये की लागत से बन रहे रेस्क्यू सेंटर में रहेगा। इसके लिए विभागीय स्तर पर कवायद की जा रही है।

ढिकाला जोन में बाघ ने पिछले साल एक कर्मचारी को हमला कर मार डाला था। दो माह बाद उसने फिर एक वनकर्मी को हमला कर मार डाला था। लगातार बाघ के हमले से वनकर्मी दहशत में थे। कार्बेट प्रशासन ने पर्यटकों व वन कर्मियों की सुरक्षा को देखते हुए बाघ को रेस्क्यू कर नैनीताल जू भेज दिया था। तब से बाघ नैनीताल जू में है। अब उस बाघ को ढेला में बन रहे रेस्क्यू सेंटर में लाने की कवायद कार्बेट प्रशासन द्वारा की जा रही है। ढेला में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रेस्क्यू सेंटर बनाने की घोषणा की थी। इसी साल जनवरी से ढेला में रेस्क्यू सेंटर का काम चल रहा है। अन्य जगह से रेस्क्यू कर लाए गए बाघों व गुलदारों को रेस्क्यू सेंटर में उपचार के लिए लाया जाएगा। उपचार के बाद इन्हें जंगल में छोड़ दिया जाएगा। उपचार के दौरान बाघ व गुलदार रेस्क्यू सेंटर में ही रहेंगे। बाघों व गुलदारों को रखने के लिए 20 बाड़े बनाए जाएंगे। जिनमें वह घूम सकेंगे । रेस्क्यू सेंटर का काम पूरा होने के बाद नैनीताल जू भेजे गए बाघ को यहा लाकर रखा जाएगा। कार्बेट पार्क के पार्क वार्डन आरके तिवारी ने बताया कि बाघ के लिए नैनीताल जू में जगह कम पड़ रही है। लिहाजा बाघ को अब वापस कार्बेट के ढेला में रखने का निर्णय लिया गया है। जल्द ही उसे वापस लाया जाएगा।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.