हल्द्वानी में अंधड़ व बारिश से खुली ऊर्जा निगम की पोल, दिनभर बिना बिजली-पानी को तरसे लोग

टीपीनगर और आरटीओ रोड स्थित सैनिक कालोनी के ट्रांसफार्मर फुंक गए। वहीं ग्रामीण क्षेत्रों में 15 पोल धराशायी हो गए। हाइटेंशन लाइनों में फाल्ट आने व एलटी लाइनों के टूटने से हजारों लोगों को दिनभर बिना बिजली व पानी के रहना पड़ा।

Prashant MishraTue, 01 Jun 2021 04:51 PM (IST)
अंधड़ व बरसात की वजह से तीन बजे से बिजली घर से आपूर्ति बंद कर दी गयी।

जागरण संवाददाता, हल्द्वानी : मंगलवार की तड़के अंधड़ के साथ आयी बरसात ने ऊर्जा निगम की मानसून सत्र आने से पहले की आपूर्ति सुचारू रखने के लिए की गयी तैयारियों की पोल खोलकर रख दी। टीपीनगर और आरटीओ रोड स्थित सैनिक कालोनी के ट्रांसफार्मर फुंक गए। वहीं ग्रामीण क्षेत्रों में 15 पोल धराशायी हो गए। हाइटेंशन लाइनों में फाल्ट आने व एलटी लाइनों के टूटने से हजारों लोगों को दिनभर बिना बिजली व पानी के रहना पड़ा।

ऊर्जा निगम के अफसरों के मुताबिक टीपीनगर बिजली घर का टीपीनगर को आपूर्ति करने वाला ट्रांसफार्मर फुंक गया। तल्ली हल्द्वानी के पुरानी आइटीआइ, गौजाजाली व आंवलाचौकी की एलटी लाइनें टूट गयी। खन्ना फार्म व देवलचौड़ की 11केवी हाइटेंशन लाइन में जगह-जगह फाल्ट आ गए। रामपुर रोड पर महेंद्रा शोरूम के पास एलटी लाइन का तार टूटने से आपूर्ति बाधित रही। ऊर्जा निगम के अफसरों के मुताबिक अंधड़ व बरसात की वजह से तीन बजे से बिजली घर से आपूर्ति बंद कर दी गयी।

विद्युत विरतण खंड ग्रामीण के अधिशासी अभियंता दीनदयाल पांगती ने बताया कि रामपुर रोड क्षेत्र की 11केवी लाइनों की आपूर्ति नौ बजे तक बहाल हो पायी। वहीं एलटी लाइनों से जुड़े इलाकों में आपूर्ति दोपहर दो से तीन बजे तक बहाल की जा सकी। वहीं आरटीओ रोड स्थित सैनिक कालोनी का ट्रांसफार्मर फुंकने से आपूर्ति ठप रही। लामाचौड़, कठघरिया, ऊंचापुल, बसानी व लालकुआं क्षेत्र में 15 पोल धराशायी हो गए। कठघरिया व कमलुवागांजा बिजली घर 11 बजे तक बंद रहे। इसके बाद 11केवी की लाइनों में सप्लाई शुरू कर दी गयी। दिनभर ऊर्जा निगम के अफसर पोल बदलने के साथ ही लाइनों को जोड़ने व फाल्ट की मरम्मत करने में जुटे रहे।

वहीं विद्युत विरतण खंड शहर के अधिशासी अभियंता देवेंद्र सिंह बिष्ट ने बताया कि अंधड़ व बरसात से मुख्य शहर की आपूर्ति ढाई घंटे तक ठप रही। इसके बाद लाइनों की मरम्मत कर सभी हाइटेंशन लाइनों की आपूर्ति बहाल कर दी गयी। गौलापार क्षेत्र में 11केवी की हाइटेंशन लाइनों व लो टेंशन लाइनों में पेड़ व टहनियां गिरने से काफी नुकसान हुआ। देर शाम तक ऊर्जा निगम के कर्मचारी गौलापार क्षेत्र की आपूर्ति बहाल करने में जुटे रहे।

 

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.