सहायक नगर आयुक्त व डाॅक्टर को साढ़े तीन घंटे बंधक बनाया, पार्षदों ने रात तक निगम परिसर में दिया धरना

हड़ताल से सफाई व्यवस्था प्रभावित होने पर पार्षद भड़क गए। शिकायत करने नगर निगम पहुंचे पार्षदों ने मेयर व नगर आयुक्त के न मिलने पर गेट बंद कर निगम परिसर में धरना शुरू कर दिया। दोनों एसएनए नगर स्वास्थ्य अधिकारी समेत स्टाफ साढ़े तीन घंटे तक बंधक बना रहा।

Prashant MishraSat, 24 Jul 2021 06:40 AM (IST)
एमएनए के नहीं पहुंचने पर पार्षदों ने चार बजे मुख्य गेट पर ताला जड़कर धरना शुरू कर दिया।

जागरण संवाददाता, हल्द्वानी : पर्यावरण मित्रों की हड़ताल से सफाई व्यवस्था प्रभावित होने पर पार्षद भड़क गए। शिकायत करने नगर निगम पहुंचे पार्षदों ने मेयर व नगर आयुक्त के न मिलने पर गेट बंद कर निगम परिसर में धरना शुरू कर दिया। दोनों एसएनए, नगर स्वास्थ्य अधिकारी समेत निगम का स्टाफ साढ़े तीन घंटे तक बंधक बना रहा। पुलिस की मदद के बाद रात 7:40 बजे अधिकारी कार्यालय से बाहर निकले।

सफाई कर्मचारियों का एक संगठन सोमवार से हड़ताल पर है। इससे सफाई व्यवस्था प्रभावित हुई है। शुक्रवार दोपहर 3:15 बजे बनभूलपुरा क्षेत्र के पार्षद नगर निगम पहुंचे। पार्षद मो. गुफरान ने बताया कि निगम में मेयर व एमएनए दोनों नहीं थे। फोन करने के बाद भी एमएनए के नहीं पहुंचने पर पार्षदों ने चार बजे मुख्य गेट पर ताला जड़कर धरना शुरू कर दिया। एसएनए गौरव भसीन व विजेंद्र चौहान पार्षदों से वार्ता करते रहे, लेकिन पार्षद नहीं माने। पार्षदों व अधिकारियों के बीच तीखी बहस होती रही।

पांच बजे छुट्टी होने के बाद स्टाफ घर जाने को निकलने लगा तो गेट पर ताला देखकर कर्मचारी बेवश नजर आए। अधिकारियों के आग्रह महिला स्टाफ व कर्मचारियों को निकलने दिया लेकिन अधिकारी कार्यालय में ही बंद रहे। रात करीब पौने आठ बजे कोतवाली व भोटियापड़ाव से पुलिस बल पहुंचने के बाद अधिकारियों को जाने दिया गया। पार्षद मो. गुफरान, लईक कुरैशी, शकील अंसारी, जीशान परवेज, रोहित कुमार, महेश चंद, धर्मवीर डेविड, पार्षद प्रतिनिधि रूमी वारसी, इस्माल मिकरानी, तौफीक अहमद पार्षद इसके बाद भी धरने पर डटे रहे।

सफाई कर्मचारियों ने निकाली रैली

नियमितीकरण समेत 11 सूत्रीय मांगों को लेकर आंदोलित देवभूमि उत्तराखंड सफाई कर्मचारी संघ का आंदोलन पांचवें दिन भी जारी रहा। शुक्रवार को कर्मचारियों ने नगर निगम से तिकोनिया चौराहा, एसडीएम कोर्ट से होते हुए वापस निगम तक रैली निकाली। दोहराया कि मांग न मानने तक आंदोलन जारी रहेगा। यहां शाखा रामू भारती, चौधरी अमरदीप, दिनेश, रवि चिंडालिया, राकेश, मदन, अमन, मुकेश, रोहित, ममता, विमला आदि शामिल रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.