सीएचसी समेत अन्य सुविधाओं को बहाल करने के लिए मुख्य न्यायाधीश को ग्रामीणों ने भेजा पत्र

गरमपानी में मागों को लेकर धरने पर बैठे पंचायत प्रतिनिधियों व व्यापारियों ने बुधवार को जुलूस निकालकर आक्रोश जताया।
Publish Date:Thu, 24 Sep 2020 04:38 AM (IST) Author:

गरमपानी, जेएनएन : नैनीताल जिले के गरमपानी में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की व्यवस्थाओं में सुधार समेत अन्य मागों को लेकर धरने पर बैठे पंचायत प्रतिनिधियों व व्यापारियों ने बुधवार को जुलूस निकालकर आक्रोश जताया। एसडीएम को ज्ञापन सौंपकर तत्काल मामले में कार्रवाई की माग उठाई। इस बीच उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश को भी संयुक्त हस्ताक्षर युक्त पत्र डाकघर के माध्यम से भेजा गया।

 

सीएचसी में बाल रोग, स्त्री रोग व हड्डी रोग विशेषज्ञ की तैनाती, चिकित्सा प्रभारी का तबादला समेत अन्य सुविधाओं को दुरुस्त करने की माग को लेकर बीते 13 दिनों से धरने पर बैठे आदोलनकारियों का सब्र बुधवार को जवाब दे गया। गरमपानी खैरना बाजार में शारीरिक दूरी के नियम का पालन कर जुलूस निकाल नारेबाजी की गई। प्रदर्शनकारियों ने कहा कि लगातार माग उठाने के बावजूद कोई सुध नहीं ली जा रही। बाद में एसडीएम प्रतीक जैन को ज्ञापन सौंपा गया।

 

वहीं उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश को डाक के माध्यम से पत्र प्रेषित कर मामले में संज्ञान लेने की गुहार लगाई गई। वक्ताओं ने कहा क्षेत्र के हजारों लोग स्वास्थ्य सुविधा के लिए सीएचसी गरमपानी से जुड़े हैं, बावजूद बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध नहीं कराई जा रही। लंबे समय से विभागीय अधिकारी क्षेत्र की उपेक्षा कर रहे हैं जिसे अब बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

 

इस दौरान ग्राम प्रधान चौर्सा सविता बिष्ट, प्रधान गरजौली भारती देवी, प्रधान हरतपा विमला रौतैला, प्रधान जोग्याड़ी शीला देवी, प्रधान तल्ला बर्धो गीता मेहरा, प्रधान बसगाव सुनीता देवी, इंद्रा देवी, प्रधान छड़ा खैरना प्रेमनाथ गोस्वामी, प्रधान बारगल त्रिभुवन पाठक, एनके आर्या, बीडीसी तुलसी देवी, व्यापार मंडल प्रदेश उपाध्यक्ष मनीष तिवारी, प्रदेश सचिव महिपाल बिष्ट, हितेश साह, जगमोहन जलाल, भाष्कर गरजौला, हरीश गिरि, देवेंद्र रावत, कपिल तिवारी आदि मौजूद रहे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.