बरात में शामिल होने गए आफिस असिस्टेंट की संदिग्ध मौत, जहरीली शराब पीने की आशंका

चचेरे भाई महेद्र ओझा ने बताया कि बीते मंगलवार को लगभग साढ़े चार बजे तक कालेज में थे। वहां बच्चों के पेपर चल रहे थे। शाम को घर आने के बाद वह गांव की एक बरात में शामिल हुए। वहां खाने-पीने का दौर चला। इस दौरान उनकी मौत हो गई।

Prashant MishraPublish:Wed, 01 Dec 2021 06:00 PM (IST) Updated:Wed, 01 Dec 2021 06:00 PM (IST)
बरात में शामिल होने गए आफिस असिस्टेंट की संदिग्ध मौत, जहरीली शराब पीने की आशंका
बरात में शामिल होने गए आफिस असिस्टेंट की संदिग्ध मौत, जहरीली शराब पीने की आशंका

जागरण संवाददाता, बागेश्वर : बरात में शामिल होने गए एक आफिस असिस्टेंट की संदिग्ध मौत हो गई है। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कर उसे स्वजनों को सौंप दिया है। स्वजनों ने जहरीली शराब पीने से मौत की आशंका जताई है।पीएम रिपोर्ट आने के बाद मुकदमा पंजीकृत करने का निर्णय लिया है।

कपकोट तहसील के राजकीय इंटर कालेज चौड़ास्थल में आफिस असिस्टेंट मंगला प्रसाद 54 वर्ष पुत्र रूप राम निवासी चौड़ा, लोहारखेत की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई है। उनका चचेरे भाई महेद्र ओझा ने बताया कि बीते मंगलवार को लगभग साढ़े चार बजे तक कालेज में थे। वहां बच्चों के पेपर चल रहे थे। शाम को घर आने के बाद वह गांव की एक बरात में शामिल हुए। वहां खाने-पीने का दौर चला। इस दौरान उनकी संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कर स्वजनों को सौंप दिया है।

कहा कि वह अपने परिवार को एकमात्र कमाऊ था। उसकी बेटियां और पत्नी का रो-रोकर बुरा हाल है। उसकी मौत जहरीली शराब पीने से हो सकती है। क्षेत्र में अवैध कच्ची शराब बनती है। जिसे प्रशासन ने रोकना चाहिए। पुलिस वहां गश्त करे। ताकि अवैध शराब को रोका जा सके। उधर, कपकोट के थानाध्यक्ष वंदना चौहान ने कहा कि अभी किसी की तहरीर नहीं आई है। घटना की जांच की जा रही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने पर मौत के असल कारणों का पता चल सकेगा।