बरहैनी रेंज में तस्करों ने दराती दिखाई तो वन विभाग ने किए चार फायर, लकड़ी से लदी तीन बाइक छोड़कर भागे

बरहैनी रेंज में बाइक सवार तस्करों को पकडऩे के लिए जब वन विभाग की टीम ने पीछा करना शुरू किया तो वे दराती दिखाकर डराने लगे। जिसके बाद वन विभाग ने चार हवाई फायर किए तो आरोपित लकड़ी से लदी तीन बाइक छोड़कर फरार हो गए।

Skand ShuklaTue, 03 Aug 2021 07:47 AM (IST)
बरहैनी रेंज में तस्करों ने दराती दिखाई तो वन विभाग ने किए चार फायर, लकड़ी लदी तीन बाइक छोड़कर भागे

जागरण संवाददाता, हल्द्वानी : खैर तस्करी के लिए चर्चित तराई केंद्रीय डिवीजन की बरहैनी रेंज में बाइक सवार तस्करों को पकडऩे के लिए जब वन विभाग की टीम ने पीछा करना शुरू किया तो वे दराती दिखाकर डराने लगे। जिसके बाद वन विभाग ने चार हवाई फायर किए तो आरोपित लकड़ी से लदी तीन बाइक छोड़कर फरार हो गए। हालांकि रेंज टीम ने सभी के चेहरे पहचान तस्करी का मुकदमा दर्ज कर लिया है। आरोपितों की तलाश जारी है।

बरहैनी रेंज अक्सर खैर तस्करों के निशाने पर रहती है। ऊधमसिंह नगर की सीमा से लगती इस रेंज के तस्करों का कनेक्शन उत्तर प्रदेश से भी है। इसलिए इसे तराई की संवेदनशील रेंज माना जाता है। रेंजर रूप नारायण गौतम के मुताबिक सूचना मिली थी कि जंगल में बाइक सवार तस्कर पहुंचे हैं। जिसके बाद रविवार रात उन्हें पकडऩे के लिए टीम भी पहुंच गई। करीब दो बजे तीन बाइकों में सवार छह लोग लकड़ी लादकर आते दिखे।

रुकने का इशारा करने पर सभी दराती दिखाकर स्टाफ को डराने लगे। जिस पर वन कर्मियों ने चार राउंड हवा में फायर कर दिए। इससे आरोपित बाइक छोड़ फरार हो गए। रेंजर गौतम के मुताबिक चेहरों की शिनाख्त करने के बाद ग्राम हरसान निवासी सुखबीर सिंह, जोगेंद्र सिंह, विजेंद्र सिंह उर्फ बंटी, होशियार सिंह के अलावा थापानगला निवासी मलकीत सिंह व गुरमीत सिंह उर्फ बिच्छू के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तारी को दबिश देना शुरू कर दिया है।

बरामद की गई लकड़ी

वन विभाग की टीम ने बरामद लकड़ी की कीमत करीब एक लाख आंकी है। तस्करों ने खैर के दो पेड़ों को काटा था। बरहैनी रेंज के गड़प्पू बीट के प्लाट नंबर 17 से ये पेड़ काटे गए हैं। मौके का निरीक्षण कर लिया गया है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.