दांत से खुलेगा ललित ज्याला की मौत का राज, बच्चों से मिलाया जाएगा डीएनए

बनबसा के व्यवसायी सूरज चंद के बहुचर्चित हत्याकांड में मास्टर माइंड रहे प्रापर्टी डीलर ललित ज्‍याला की आत्महत्या का राज अब उसके दांत से खुलेगा। खटीमा पुलिस गुजरात से ज्याला का दांत लेकर लौटी है। अब उसके डीएनए का भी बच्चों से मिलान किया जाएगा।

Skand ShuklaSun, 28 Nov 2021 07:43 PM (IST)
दांत से खुलेगा ललित ज्याला की मौत का राज, बच्चों से मिलाया जाएगा डीएनए

संवाद सहयोगी, खटीमा : बनबसा के व्यवसायी सूरज चंद के बहुचर्चित हत्याकांड में मास्टर माइंड रहे प्रापर्टी डीलर ललित ज्‍याला की आत्महत्या का राज अब उसके दांत से खुलेगा। खटीमा पुलिस गुजरात से ज्याला का दांत लेकर लौटी है। अब उसके डीएनए का भी बच्चों से मिलान किया जाएगा। बता दें कि कम समय में अमीर बनने की चाहत में शातिर अपराधी बने ललित ज्याला ने गुजरात में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली थी। जबकि खटीमा पुलिस उसे कोर्ट वारंट पर चार महीनों से इधर-उधर तलाश रही थी। गुजरात पुलिस की ओर से भेजे गए शव के फोटो, पेट के ऑपरेशन के निशान के आधार पर स्वजनों ने उसके ललित ज्याला होने की पुष्टि की थी।

प्रॉपर्टी डीलर सूरज चंद की हत्‍या का था आरोपित

पांच साल पहले तीन जुलाई 2016 को खटीमा में चम्पावत जिले के बनबसा के प्रॉपर्टी डीलर सूरज चंद की अपहरण के बाद हत्या कर दी गई। शव एक आरोपित के घर के आंगन में बने सीवर टैंक में डाल दिया गया था। मामले में पांच दिन बाद नौगवांनाथ खटीमा निवासी मुख्य सूत्रधार प्रॉपर्टी डीलर ललित ज्याला व उसके साथी ईश्वरी, पप्पू राणा व सुरेश राणा का नाम आया। इसके अलावा ज्याला की बहन, भांजे व एक अन्य आरोपित को पुलिस ने षडय़ंत्र में शामिल होने पर जेल भेजा था। वर्तमान में सभी आरोपित जमानत पर हैं।

गुजरात में कर ली थी खुदकुशी

हत्याकांड के मामले में एक साल बाद जमानत पर छूटने के बाद कर्जदार उस पर रकम वापसी का दबाव बना रहे थे। एक जमीन को दो-दो लोगों को बेचने के धोखाधड़ी के आरोप में वह कोर्ट में पेश नहीं हो रहा था। ऐसे में कोर्ट ने वारंट जारी कर दिया था। पिछले चार माह से फरार चल रहा था। बुधवार शाम थाना सीटीसी जिला जामनगर गुजरात से खटीमा कोतवाली को सूचना मिली कि एक व्यक्ति ने आत्महत्या कर ली है। जिसके पास से राजीव सिंह पुत्र जमन सिंह की फोटो आइडी और ललित ज्याला के पासपोर्ट आइडी की कॉपी मिली है। दोनों आइडी पर एक ही व्यक्ति की फोटो है। गुजरात से भेजी गई फोटो व आइडी से ललित ज्याला के घर तस्दीक के लिए चौकी प्रभारी धीरज वर्मा पहुंचे। जहां तलाकशुदा पत्नी मुन्नी देवी ने पेट में अपेंडिक्स के ऑपरेशन के निशान और फोटो के आधार पर पुष्टि की थी।

ज्याला का डीएनए रखा गया है सुरक्षित

तब खटीमा पुलिस ने गुजरात पुलिस से संपर्क कर ज्याला का डीएनए सुरक्षित रख लिया था। ताकि उसकी मौत की सत्यता का पता चल सके। कुछ दिन पूर्व उपनिरीक्षक धीरज वर्मा के नेतृत्व में एक टीम गुजरात के जामनगर पहुंची और वहां की पुलिस से संपर्क साधकर उसकी मौत से जुड़ी जानकारी हासिल की। साथ ही जरूरी औपचारिकता पूरी करने के बाद ज्याला का दांत प्राप्त किया। सीओ खटीमा मनोज ठाकुर ने बताया कि डीएनए परीक्षण के लिए न्यायालय से अनुमति ले ली है। अब दांत के जरिए ज्याला के डीएनए से उसके बच्चों के डीएनए का मिलान किया जाएगा। इस प्रक्रिया में कुछ समय लगेगा। संभावना है कि इसके बाद उसकी मौत को लेकर कुछ स्थिति स्पष्ट हो सकेगी।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.