ग्रामीण स्वास्थ्य सेवा को पटरी पर लाने में आशाओं का उल्लेखनीय योगदान, कोरोना काल के कार्यों को सराहा

उत्कृष्ट कार्य करने वाली आशाओं ब्लाक कोआर्डिनेटरों के साथ फैसिलिटेटरों को सम्मानित किया। आशा कार्यकर्ताओं के कार्यों की सराहना करते हुए उन्होंने कहा कि ग्रामीण स्वास्थ्य सेवा की अग्रदूत बनकर आशाएं अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन बखूबी कर रही हैं।

Prashant MishraSat, 04 Dec 2021 05:16 PM (IST)
जिला पंचायत सभागार में आयोजित आशा कार्यकर्ताओं के सम्मेलन और सम्मान समारोह

जागरण संवाददाता, चम्पावत : जिला पंचायत सभागार में आयोजित आशा कार्यकर्ताओं के सम्मेलन और सम्मान समारोह का शनिवार को पुरस्कार वितरण के साथ समापन हो गया है। सम्मेलन में जिले भर से आई आशा वर्करों ने हिस्सा लिया। आशा प्रशिक्षण केंद्र हिमालयन अध्ययन केंद्र की ओर से आयोजित कार्यक्रम का समापन मुख्य अतिथि जिला पंचायत अध्यक्ष ज्योति राय ने किया। उन्होंने उत्कृष्ट कार्य करने वाली आशाओं, ब्लाक कोआर्डिनेटरों के साथ फैसिलिटेटरों को सम्मानित किया। आशा कार्यकर्ताओं के कार्यों की सराहना करते हुए उन्होंने कहा कि ग्रामीण स्वास्थ्य सेवा की अग्रदूत बनकर आशाएं अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन बखूबी कर रही हैं।

मुख्य अतिथि ने कोरोना काल में आशा वर्करों के कार्यों का उल्लेख करते हुए कहा कि विषम परिस्थितियों में उन्होंने अपनी जान को जोखिम में डालकर प्रवासियों एवं क्वारंटाइन किए गए लोगों की देखरेख की। उन्होंने कहा कि आज भी आशाओं के सामने कई चुनौतियां हैं जिनका सरकार लगातार समाधान कर रही है। उन्होंने सरकार की ओर से आशाओं को दी जा रही सुविधाओं की जानकारी दी। विशिष्ट अतिथि सीएमओ डा. केके अग्रवाल ने आशाओं को विभाग की रीढ़ बताया। कहा कि विभागीय कार्यों के अतिरिक्त अन्य सरकारी कार्यों के संचालन में भी आशाओं का योगदान अग्रणी है। नगर पालिकाध्यक्ष विजय वर्मा ने कहा कि आशाओं की वजह से दूर दराज के ग्रामीण क्षेत्र के लोगों बेहतर स्वास्थ्य सेवा मिल रही है। हिमालयन अध्ययन केंद्र के निदेशक डा. दिनेश जोशी ने आशाओं के कार्य की सराहना करते हुए उन्हें और अधिक सुविधाएं देने पर जोर दिया। अन्य वक्ताओं ने भी राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन की भूमिका और ग्रामीण जन स्वास्थ्य क्षेत्र में आशाओं के योगदान पर प्रकाश डाला।

आशा संगठन की जिलाध्यक्ष निर्मला पुनेठा ने आशाओं की विभिन्न समस्याओं से अवगत कराया। संचालन राजेंद्र गहतोड़ी ने किया। इससे पूर्व आशाओं की ओर से मुख्य अतिथि समेत अन्य सभी अतिथियों का शॉल ओढ़ाकर स्वागत किया गया। इस मौके पर एसीएमओ डा. श्वेता खर्कवाल, जिला समन्वयक जगदीश जोशी, ब्लॉक समन्वयक निर्मला पुनेठा, अनीता राय, सुनीता जोशी, महेश सुतेड़ी, विवेकानंद जोशी, चंद्रशेखर ओझा, उत्कर्ष ओझा सहित तमाम लोग मौजूद रहे। कार्यक्रम में चम्पावत, लोहाघाट, पाटी, बाराकोट, टनकपुर, बनबसा से आशा कार्यकर्ताएं पहुंची हुई थीं।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.