उत्तराखंड को हर क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनाने का है लक्ष्य : सीएम धामी

देश को आत्मनिर्भर बनाने के लिए लक्ष्य साध दिया गया है। 2025 तक प्रत्येक युवा के हाथ में रोजगार होगा। प्रधानमंत्री स्वरोजगार और मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के तहत राज्य में बेहतर काम हो रहा है। कोरोना के बाद घर लौटे प्रवासी अपना काम करने लगे हैं।

Prashant MishraSat, 27 Nov 2021 04:01 PM (IST)
विकास योजनाओं पर गंभीरता से काम हो रहा है।

जागरण संवाददाता, बागेश्वर : मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि 2025 तक उत्तराखंड को हर क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनाने का लक्ष्य रखा गया है। जिसके लिए विकास योजनाओं पर गंभीरता से काम हो रहा है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मार्गदर्शन में उत्तराखंड आगे बढ़ रहा है।

शनिवार को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी जिला मुख्यालय से लगभग 90 किमी दूर कपकोट के कर्मी गांव में आयोजित दानपुर महोत्सव का शुभारंभ करने पहुंचे। उन्होंने कहा कि महोत्सव उत्तराखंड की संस्कृति की पहचान है। सरकार महोत्सवों के जरिए लोगों को एक मंच में लाने का काम कर रही है। देश को आत्मनिर्भर बनाने के लिए लक्ष्य साध दिया गया है। 2025 तक प्रत्येक युवा के हाथ में रोजगार होगा। प्रधानमंत्री स्वरोजगार और मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के तहत राज्य में बेहतर काम हो रहा है।

कोरोना के बाद घर लौटे प्रवासी अपना काम करने लगे हैं। यह बेहतर पहल है और आत्मनिर्भर बनने का मूल मंत्र भी है। उन्होंने कहा कि दानपुर महोत्सव को पहचान दिलाई जाएगी। पर्यटन के क्षेत्र में कपकोट काफी खूबसूरत है। जिसके लिए भी अलग से योजनाएं बनाई जाएंगी। उन्होंने कहा कि सड़क, बिजली, पानी, संचार के क्षेत्र में कपकोट को आगे बढ़ाया जा रहा है। इससे पूर्व उन्होंने मां भगवती मंदिर कर्मी में पूजा-अर्चना कर राज्य और देश की खुशहाली की कामना की।  

सीएम ने कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव में पार्टी प्रत्याशी को भारी बहुमत से जिताकर विधानसभा भेजना है और देश की प्रगति में साथ देना है। इस दौरान सुरेश गढ़िया, विधायक बलवंत भौर्याल, भाजपा जिलाध्यक्ष शिव सिंह बिष्ट आदि मौजूद थे।

चार माह के कार्यकाल में पांच सौ से अधिक फैसले

मुख्यमंत्री ने कहा कि चार माह के कार्यकाल में पांच सौ से अधिक फैसले लिए गए हैं। सरकार की योजनाएं धरातल पर उतर रही हैं। उत्तराखंड के ग्राम प्रधान विकास कार्यों की मजबूत इकाई हैं। सरकार ने पिछले चार माह में आशा, आंगनबाड़ी, उपनल, शिक्षा मंत्र, ग्राम प्रधानों का मानदेय बढ़या है। जिला पंचायत सदस्यों के लिए भी अहम फैसले लिए हैं। 

नई खेल नीति बनाई

सीएम ने कहा कि नई खेल नीति बनाई गई है। गांव में रहने वाले खिलाड़ी को भी मंच मिल रहा है। गरीब परिवारों के युवाओं को खेलों की तरफ मोड़ा जा रहा है। उनके आने, जाने, रहने और भोजन आदि की व्यवस्था सरकार कर रही है। उन्हें अब किसी का मुंह नहीं ताकना पड़ेगा। 

आंदोलनकारियों की पेंशन बढ़ी

सीएम ने कहा कि राज्य आंदोलनकारियों की पेंशन 4500 रुपये कर दी गई है। आंदोलनकारी पति या पत्नी को भी पेंशन देने का हक मिला है। उपनल कर्मियों की पेंशन दो हजार से तीन हजार रुपये तक बढ़ाई गई है। 

कैबिनेट ले रहा अहम निर्णय

सीएम ने कहा कि कैबिनेट की बैठक में अहम निर्णय लिए जा रहे हैं। उत्तराखंड के लिए एक-एक क्षण देने का संकल्प लिया गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का सहयोग मिल रहा है। आजादी के बाद चारधाम तक सड़क बन रही हैं। केंद्र का सात वर्ष का कार्यालय अन्य पर भारी पड़ रहा है। आयुष्मान भारत योजना से एक साल में पांच लाख रुपये तक मुफ्त उपचार हो रहा है। उज्ज्वला योजना से रसोई का धुंआ कम हुआ है। 

गोली का जवाब गोली से दे रहा भारत

सीएम ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पहल से सेना को उसके अधिकार मिले हैं। जवान आज गोली से गोली का जवाब देने में सक्षम हुई है। बर्फ में देश की सीमाओं में तैनात जवानों की बेहतरी के लिए काम हो रहा है। 2014 में केंद्र की सरकार बनी और 40 वर्ष पुरानी मांग वन रेंक वन पेंशन मिली। जिससे सेना का मनोबल बढ़ा है। सेना 1972 में भी बहादुर थी और आज भी बहादुर है। प्रधानमंत्री होली और दीवाली सैनिकों के बीच में मना रहे हैं।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.