चम्पावत में मोबाइल टावर लगाने के नाम पर ठगी करने वाला हरिद्वार से गिरफ्तार

पुलिस टीम ने सम्बंधित फोन पे गूगल पे नोडल सम्बन्धित बैकों की डिलेट मोबाइल सर्विलांस तथा अखबार विज्ञापन के माध्यम से आरोपित की पहचान सोनू (23) पुत्र स्व. विनोद निवासी ग्राम नारसनकला थाना मंगलौर जनपद हरिद्वार उत्तराखंड के रूप में की। अपना फर्जी नाम प्रदीप शर्मा बताकर धोखाधड़ी की थी।

Prashant MishraWed, 16 Jun 2021 05:48 PM (IST)
व्यक्ति ने मोबाइल टावर के नाम पर चम्पावत के डडाबिष्ट निवासी चेतन नेगी को भी ठगी का शिकार बनाया था।

जागरण संवाददाता, चम्पावत : पुलिस ने मोबाइल टावर लगाने के नाम पर लाखों रुपये की ठगी करने वाले अंतरर्राज्यीय गिरोह के एक ठग को हरिद्वार से गिरफ्तार कर लिया है। पकड़े गए व्यक्ति ने मोबाइल टावर के नाम पर चम्पावत के डडाबिष्ट निवासी चेतन नेगी को भी ठगी का शिकार बनाया था।

जनवरी 2021 में चम्पावत के डडाबिष्ट निवासी ज्योति नेगी पत्नी गोविन्द सिंह ने पुलिस को बताया कि कुछ समय पूर्व उसके भाई चेतन नेगी द्वारा एक अखबार में 110 मोबाइल टावर लगवाने के सम्बन्ध में विज्ञापन देखा और मोबाइल नंबर- 9630666912 में सम्पर्क किया तो मोबाइल उठाने वाले व्यक्ति ने अपना नाम प्रदीप कुमार शर्मा पुत्र राम प्रगट, निवासी आरा मशीन, पुराव, हलुवा बस्ती, उत्तरप्रदेश बताया।

कहा कि हम लोग मोबाइल टावर लगाने हेतु जमीन तलाश रहे हैं। आप हमें जमीन उपलब्ध कराएं तो इसके एवज में आपको 45 लाख रुपये दिए जाएंगे। कहा कि विज्ञापन में सिक्योरिटी हेतु दिए गए खाता नंबर में दो हजार रुपया जमा कर दें। महिला ने पुलिस को बताया कि संबंधित व्यक्ति पर विश्वास कर उसके भाई ने खाते में दो हजार रुपये और अगल-अलग तारीख में अलग-अलग खाता नंबरों में कुल 5.35,850 रुपये (पांच लाख पैंतीस हजार आठ सौ पचास रुपये) यूपीआई के माध्यम से जमा किए। इसके बाद भी फोन उठाने वाले प्रदीप शर्मा ने मोबाइल टावर नहीं लगाया और न ही रुपये वापस लौटाए। पुलिस ने सूचना के आधार पर 23 जनवरी 2021 को कोतवाली चम्पावत में धारा 420, 120बी भादवि के तहत आरोपित के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत कर जांच शुरू कर दी। चल्थी चौकी प्रभारी हेमंत कुमार को विवेचना सौंपी गई।

पुलिस टीम ने सम्बंधित फोन पे, गूगल पे, नोडल सम्बन्धित बैकों की डिलेट, मोबाइल सर्विलांस तथा अखबार विज्ञापन के माध्यम से आरोपित की पहचान सोनू (23) पुत्र स्व. विनोद, निवासी ग्राम नारसनकला, थाना मंगलौर, जनपद हरिद्वार उत्तराखंड के रूप में की। जिसने अपना फर्जी नाम प्रदीप शर्मा बताकर धोखाधड़ी की थी। एसपी लोकेश्वर सिंह के निर्देश पर आरोपित की गिरफ्तारी के लिए चल्थी चौकी प्रभारी हेमंत कठैत के नेतृत्व में पुलिस टीम को हरिद्वार भेजा गया। पुलिस ने आरोपित को ग्राम नारसन कला, थाना मंगलौर से गिरफ्तार कर लिया गया। बुधवार को उसे कोर्ट में पेश करने के बाद न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। सीओ अशोक कुमार ने बताया कि पकड़े गए व्यक्ति की क्राइम हिस्ट्री पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है। बताया कि पकड़ा गया व्यक्ति टावर लगाने के नाम पर ठगी करने वाले गिरोह का प्रमुख सदस्य है। पुलिस टीम में साइबर सैल प्रभारी हरपाल सिंह, चल्थी चौकी प्रभारी हेमंत कठैत, चम्पावत कोतवाली के कांस्टेबल अब्दुल मलिक, चल्थी चौके के अजय शाही, साइबर सैल के सद्दाम हुसैन और सर्विलांस के भुवन पांडेय शामिल रहे।

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.