कंस्ट्रक्शन साइट्स और अतिक्रमण तोड़ने से नि‍कलने वाला वेस्ट उठाएगा नगर निगम

कंस्ट्रक्शन साइट्स और अतिक्रमण को तोड़ने से निकलने वाला मलबा नगर नि‍गम उठाएगा।
Publish Date:Tue, 29 Sep 2020 08:52 AM (IST) Author: Skand Shukla

हल्द्वानी, गणेश पांडे : कंस्ट्रक्शन साइट्स और अतिक्रमण को तोड़ने से निकलने वाला मलबा अब शहर में गंदगी के ढेर के रूप में नजर नहीं आएगा। मलबा प्रदूषण बढ़ाने का कारण भी नहीं बनेगा। नगर निगम प्रशासन ने सीएनडी (कंस्ट्रक्शन एंड डिमॉलिशन) वेस्ट मैनेजमेंट की दिशा में कार्ययोजना तैयार कर ली है। अगले एक से दो माह में कार्ययोजना पर काम शुरू होने की उम्मीद है। 

सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट यानी एसडब्ल्यूएम के तहत सीएनडी वेस्ट को भी शामिल किया गया है। शहरी विकास विभाग की नई गाइडलाइन के मुताबिक निकायों के लिए सीएनडी वेस्ट का प्रबंधन करना जरूरी है। शहरवासियों को सीएनडी वेस्ट उठाने के बदले दूरी या फेरे के आधार पर शुल्क अदा करना होगा। पिछले दिनों शहरी विकास विभाग के अधिकारियों ने नगर आयुक्तों के साथ वर्चुअल बैठक कर सीएनडी पर विस्तार से चर्चा की।

निकायों से इस दिशा में प्रभावी तरीके से तेजी के साथ काम करने के निर्देश दिए गए हैं। जिसके बाद नगर आयुक्त सीएस मर्तोलिया ने स्वास्थ्य अनुभाग से प्रभावी कार्ययोजना तैयार कर इस दिशा में काम शुरू करने के निर्देश दिए हैं। नगर आयुक्त हल्द्वानी सीएस मर्तोलिया ने बताया क‍ि सीएनडी वेस्ट को इधर-उधर नहीं फैंका जा सकेगा। निर्धारित शुल्क में नगर निगम इसका उठान करेगा। जिसे जरूरत पडऩे पर उपयोग में लाया जा सकता है। इस दिशा में काम शुरू कर दिया गया है। 

नगर निगम की बढ़ेगी आय 

सीएनडी वेस्ट उठाने के लिए निगम प्रशासन भवन स्वामी और अतिक्रमण के मामले में अतिक्रमण करने वाले से लागत के सापेक्ष निर्धारित शुल्क लेगा। अगले एक दो सप्ताह में निगम दरें निर्धारित कर लेगा। निगम के भवन स्वामी के सूचित करने या किसी के शिकायत करने पर निगम की टीम सीएनडी वेस्ट उठाने जाएगी। शहर के पार्कों, सड़कों, कंस्ट्रक्शन साइट आदि पर जरूरत होने पर भरान के लिए सीएनडी वेस्ट का उपयोग होगा। इसका निगम चार्ज लेगा, जिससे निगम की आय बढ़ेगी।

ट्रंचिंग ग्राउंड में डंप होगा मलबा

हल्द्वानी शहर से निकलने वाले सीएनडी वेस्ट को ट्रंचिंग ग्राउंड में डंप किया जाएगा। वरिष्ठ नगर स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मनोज कांडपाल ने बताया कि ट्रंचिंग ग्राउंड का एक हिस्सा सीएनडी वेस्ट के लिए खाली छोड़ा गया है। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.