top menutop menutop menu

आठ जुलाई से पहाड़ की सड़कों पर दौड़ेंगी केएमओयू की बसें

आठ जुलाई से पहाड़ की सड़कों पर दौड़ेंगी केएमओयू की बसें
Publish Date:Mon, 06 Jul 2020 06:15 AM (IST) Author: Jagran

जासं, हल्द्वानी : कुमाऊं मोटर ऑनर्स यूनियन (केएमओयू) की बसों से सफर करने वाले यात्रियों के लिए अच्छी खबर है। तीन महीने बाद आठ जुलाई से पहले चरण में कुमाऊं के विभिन्न पर्वतीय रूटों पर यूनियन की 25 बसों की संचालन शुरू किया जाएगा। हालांकि यात्रियों को दोगुना किराया देकर सफर करना पड़ेगा और एक बस में कुल सीटिंग क्षमता के विपरीत 50 फीसद यात्री ही सफर कर पाएंगे। कोरोना संक्रमण से बचाव के साथ नियमों का पालन होगा।

केएमओयू के अध्यक्ष सुरेश डसीला ने बताया कि लॉकडाउन के बाद से बसों का संचालन पूरी तरह ठप है। अब काफी विमर्श के बाद सेवा को फिर से शुरू करने का निर्णय लिया गया है। हालांकि मौजूदा हालात को देखते हुए अभी 25 बसों का ही संचालन होगा। भविष्य में यात्रियों की संख्या बढ़ने पर बसों की संख्या भी बढ़ाई जाएगी। बसों में सवार होने से पूर्व यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग होगी। बगैर मास्क के यात्रा करने की अनुमति नहीं दी जाएगी। केएमओयू के इस निर्णय के बाद पर्वतीय क्षेत्रों को जाने वाले यात्रियों बड़ी राहत मिलने वाली है। क्योंकि इस समय टैक्सी चालकों के मनमाना किराया वसूलने से लोग परेशान हैं और मजबूरी में सफर कर रहे हैं। इन रूटों पर चलेंगी बसें

हल्द्वानी से पिथौरागढ़, गंगोलीहाट, अल्मोड़ा, रानीखेत, बागेश्वर वाया गरुड़, बागेश्वर वाया ताकुला, बेरीनाग, भीमताल, शहरफाटक, भवाली आदि रूटों पर बसों का संचालन किया जाएगा। वहीं, इन रूटों से वापसी में हल्द्वानी आने वाले यात्री इन्हीं बसों से सफर करेंगे। अब ऐसा होगा केएमओयू की बसों का किराया

रूट पुराना नया

पिथौरागढ़ 385 770

अल्मोड़ा 160 320

रानीखेत 160 320

गंगोलीहाट 370 740

बागेश्वर वाया गरुड़ 315 630

भवाली 70 140

भीमताल 50 100

शहर फाटक 150 300

बागेश्वर वाया ताकुला 290 580

बेरीनाग 350 700

(नोट- किराया रुपये की दर से )

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.