स्वतंत्रता दिवस पर भारत-नेपाल सीमा पर स्थित अंतरराष्ट्रीय पुल दस मिनट के लिए खुला

स्वतंत्रता दिवस पर भारत-नेपाल सीमा पर स्थित अंतरराष्ट्रीय पुल दस मिनट के लिए खुला

स्वतंत्रता दिवस पर भारत-नेपाल के मध्य अंतरराष्ट्रीय पुल लगभग दस मिनट के लिए खुला। इस दौरान कोई आवाजाही नहीं हुई।

Publish Date:Sun, 16 Aug 2020 08:32 AM (IST) Author: Skand Shukla

पिथौरागढ़, जेएनएन : स्वतंत्रता दिवस पर भारत-नेपाल के मध्य अंतरराष्ट्रीय पुल लगभग दस मिनट के लिए खुला। इस दौरान कोई आवाजाही नहीं हुई। नेपाल सशस्त्र बल के अधिकारियों ने एसएसबी के अधिकारियों और जवानों को स्वतंत्रता दिवस की बधाई देते हुए शाल और पुष्पगुच्छ भेंट किए। एसएसबी अधिकारियों ने नेपाल के अधिकारियों को मिठाई खिलाई। इस दौरान माहौल काफी सौहार्दपूर्ण रहा। एक-दूसरे देश के अधिकारियों दोनों देशों के हालचाल लिए।

पुल खुलने पर नेपाल सशस्त्र बल दार्चुला के एसपी नरेंद्र बहादुर बम ओर छांगरु गुल्म के डीएसपी धीरेंद्र साह पुल के इस तरफ आए। एसएसबी अधिकारियों को बधाई दी और फूलो का गुलदस्ता और पुष्पगुच्छ भेंट किए। लगभग आठ से दस मिनट तक खुले पुल और अधिकारियों के बीच संवाद पर 11वी बटालियन एसएसबी के सेनानी महेंद्र प्रताप ने काफी सौहार्दपूर्ण बताया। उन्होंने कहा कि इससे दोनों देशों के सशस्त्र बलों के बीच सामंजस्य बना रहता है।

बता दें कि कोरोना वायरस का कहर शुरू होने के बाद से भारत-नेपाल बॉर्डर को सील कर दिया गया था। बीची-बीच में पुल दोनों देेशों के नागरिकों की आवाजाही के लिए खोले जाते रहे हैं। हालांकि अब भी सीमा पर चौकसी बरती जा रही है। जबकि इसी बीच नेपाल की तरफ से बीच-बीच में कई बार सीमा विवाद के मसले को उठाया गया। वहीं बनबसा में नो मैंस लैंड पर नेपाली नागरिकों ने पौधे लगाकर कब्जा कर लिए हैं तो नेपाल प्रशासन ने सीसीटीवी कैमरे का रुख अब तक नहीं मोड़ा है। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.