लोहाघाट में युवक को दबंगई दिखना पड़ा महंगा, छह माह के लिए जिलाबदर

संजय सिंह फत्र्याल उर्फ अलबेला (38) पुत्र महेश सिंह फत्र्याल आए दिन लोहाघाट एवं पाटी क्षेत्र में गुंडई के बल पर लोगों को परेशान करता था। लोगों के साथ बिना किसी कारण के मारपीट और गाली गलौच करने के कारण लोगों में भय का माहौल था।

Prashant MishraMon, 06 Dec 2021 04:56 PM (IST)
पुलिस ने उसके खिलाफ गुंडा एक्ट के अन्तर्गत कार्रवाई करते हुए रिपोर्ट जिलाधिकारी को दी गई थी।

जागरण संवाददाता, चम्पावत : जिला मजिस्ट्रेट की अदालत ने लोहाघाट क्षेत्र के देवखुरा, कोलीढेक निवासी एक व्यक्ति को छह माह के लिए जिला बदर कर दिया है। उसके खिलाफ पुलिस ने गुंडा एक्ट में कार्रवाई करते हुए रिपोर्ट जिला मजिस्ट्रेट को भेजी थी। 

संजय सिंह फत्र्याल उर्फ  अलबेला (38) पुत्र महेश सिंह फत्र्याल आए दिन लोहाघाट एवं पाटी क्षेत्र में गुंडई के बल पर लोगों को परेशान करता था। लोगों के साथ बिना किसी कारण के मारपीट और गाली गलौच करने के कारण लोगों में भय का माहौल था। अवैध शराब की तस्करी एवं अन्य आपराधिक घटनाओं में भी उसकी संलिप्तता थी। भय के कारण उसकी शिकायत दर्ज कराने का साहस भी लोग नहीं जुटा पा रहे थे। आरोपित के खिलाफ थाना लोहाघाट में कई अभियोग भी पंजीकृत हैं। बार-बार समाज में दबंगई कर सामाजिक माहौल को खराब करने के कारण थाना पाटी एवं थाना लोहाघाट पुलिस ने उसके खिलाफ गुंडा एक्ट के अन्तर्गत कार्रवाई करते हुए रिपोर्ट जिलाधिकारी को दी गई थी।

जिला मजिस्ट्रेट की न्यायालय में भी उसे गुंडा प्रवृत्ति का होने का दोषी पाया गया। सोमवार को जिला मजिस्ट्रेट की न्यायालय ने संजय सिंह फत्र्याल को छह माह के लिये जिला बदर कर दिया है। एसपी देवेंद्र पींचा ने बताया कि उसे जनपद की सीमा के अन्दर प्रवेश नहीं करने की चेतावनी दी गई है। जिले की सीमा पर पाए जाने पर उसके खिलाफ नियमानुसार कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

डेढ़ माह से सलना पेयजल योजना से नहीं टपकी पानी की बूंद

लोहाघाट : सलना पेयजल योजना ध्वस्त होने से बाराकोट ब्लाक के ग्राम सभा इजड़ा में पेयजल का गंभीर संकट पैदा हो गया है। जिस कारण गांव में विगत डेढ़ माह से पानी की बूंद नहीं टपकी है। जिसके चलते ग्रामीणों को काफी परेशानी का सामना करना पड़  रहा है। सबसे ज्यादा दिक्कत शादी विवाह करने वालों के घर में हो रही है। लोग विवाह से पूर्व पानी का इंतजाम करने में जुटे हुए हैं। 

ग्रामीणों ने कहा कि बीते दिनों बारिश के दौरान सलना से आने वाली पेयजल लाइन जगह जगह टूटने से पूरे क्षेत्र में पानी नहीं आ रहा है। जिस कारण ग्रामीण दूर दराज स्थित पेयजल स्रोत से पानी ला रहे हैं। कड़ाके के ठंड के बीच लोगों को प्राकृतिक जल स्रोतों से पानी ढोना पड़ रहा है। शादी ब्याह के सीजन के दौरान प्राकृतिक जल स्रोत से एक दिन पहले पानी ढ़ोना पड़ रहा हैं। दूसरी ओर  कामकाजी महिलाओं का पूरा समय पानी लाने में ही व्यतीत हो रहा है जिससे अन्य कार्य प्रभावित हो रहे हैं।

ग्रामीण गोपाल सिंह, सुमित सिंह, राजू सिंह प्रकाश चंद्र,  दीपक सिंह, धन सिंह, कुंदन सिंह,  कैलाश चंद्र,हीरा देवी, कलावती देवी, पार्वती देवी, मुन्नी देवी आदि ने  शीघ्र पेयजल लाइन की मरम्मत करने की मांग की ऐसा न होने पर आंदोलन की चेतावनी दी है। इधर जल संस्थान के अभियंता पवन बिष्ट ने बताया बीते दिनों बारिश से सलना इजड़ा पेयजल लाइन जगह जगह टूटी हुई। कनियान तक लाइन ठीक कर ली गई। लाइन ठीक करने का कार्य चल रहा। शीघ्र व्यवस्था सुचारू कर ली जाएगी।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.