कार्बेट टाइगर रिजर्व के रिसॉर्ट में अंतरराज्यीय देह व्‍यापार का गिरोह पकड़ा गया

रामनगर में अल्मोड़ा जिला की सीमा पर मोहान स्थित रिसॉर्ट में एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग सेल व पुलिस ने छापा मारकर अवैध देह व्‍यापार के धंधे पर्दाफाश किया है। मौके से पांच महिला और एक युवक टीम ने गिरफ्तार किया है। जबकि एक आरोपित मौके से फरार हो गया।

Skand ShuklaThu, 23 Sep 2021 01:04 PM (IST)
रामनगर कि रिसार्ट में चल रहा था अवैध देह व्‍यापार के धंधा, एक युवक समेत पांच युवतियां गिरफ्तार

रामनगर, जागरण संवाददाता : रामनगर में कार्बेट टाइगर रिजर्व के मोहान रीजन के रिसॉर्ट में छापामारी के दौरान अंतरराज्यीय देह व्‍यापार का गिरोह पकड़ा गया। पुलिस ने मौके से एक मुख्य आरोपित समेत छह कालगर्ल को गिरफ्तार किया है। जबकि रैकेट का संचालक फरार हो गया। कालगर्ल राजस्थान, पश्चिमी बंगाल व उत्तर प्रदेश की हैं। पुलिस के मुताबिक वह अलग-अलग राज्‍स में धंधा चलाती थीं। वह एक ग्राहक से तीन से चार हजार रुपये वसूले जाते थे।

बुधवार रात में जिला अल्मोड़ा की सीमा से सटे नैनीताल जिले के मोहान गांव में मेंगो ब्लूम रिसॉर्ट में एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग सेल व स्थानीय पुलिस ने रिसॉर्ट पर छापा मारा। पुलिस ने दरवाजा खुलवाया तो एक कमरे में पांचों महिलाएं व दो युवक आपत्तिजनक हालत में मिले। इस बीच एक युवक मौके से भाग गया। पुलिस ने पांच कालगर्ल व एक युवक को पकड़ लिया। पुलिस को मौके से आरोपितों के पास से करीब एक लाख रुपये व आपत्तिजनक सामग्री भी मिली। पुलिस आरोपितों को पकड़कर कोतवाली ले आई। पकड़ा गया युवक किराड़ी सुलेमान नगर थाना सुल्तानपुरी निवासी नार्थ वेस्ट दिल्ली निवासी रौशन उर्फ मो. नूरहसन है। जबकि पांचों कालगर्ल उत्तर प्रदेश, दिल्ली, अलवर राजस्थान व पश्चिम बंगाल राज्‍य की हैं।

दो महिलाओं ने बताया कि रोशन व विशाल उन्हें बुकिंग पर लाए थे। वह उन्हें बुकिंग पर भेजने वाले थे। रैकेट के धंधे में प्रयुक्त आरोपितों की फोर्ड कार भी पुलिस ने सीज कर दी है। कोतवाल एके सिंह ने बताया कि फरार आरोपित का नाम विशाल है। आरोपित कई राज्‍यों में जाते हैं, इसलिए अंतरराज्यीय रैकेट हैं। सभी आरोपितों के खिलाफ अनैतिक देह व्यापार अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। टीम में एंटी ह्यूमन टै्रफिकिंग सेल की एसआइ लता बिष्ट, रामनगर के एसआई भगवान सिंह महर, किशन सिंह, नीतू चंदोला, कुसुम बिष्ट, रिजवान अली, ललित आगरी, सतीश पंत, संजय दोसाद मौजूद रहे।

बिना आइडी के ठहराए थे आरोपित

मोहान में जिस रिसॉर्ट में कालगर्ल पकड़ी गईं, वह पहले मेंगो ब्लूम स्पा के नाम से था। उसका नाम अब ड्यू ड्रॉप रिसॉर्ट कर दिया है। पुलिस ने बताया कि रिसॉर्ट संचालक द्वारा आरोपितों को बिना पहचान पत्र के ठहराया गया था। उनकी आइडी भी रिसॉर्ट द्वारा जमा नहीं कराई गई। रिसॉर्ट संचालक के खिलाफ भी पुलिस एक्ट में कार्रवाई की जाएगी, जिसमें जुर्माना या सजा का प्रावधान है। आरोपित लोग 10 से 15 दिन के लिए मोहान रिसॉर्ट में आए थे। वह यहां रहकर अपने लिए ग्राहक की तलाश कर रहे थे।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.