हल्द्वानी में 59 शहीदों के स्वजनों के सम्मान कार्यक्रम में परोस दिया घटिया भोजन

Sainik Samman Yatra शहीद सम्मान समारोह के तहत शनिवार को 59 शहीदों के स्वजनों को सम्मानित किया गया। नैनीताल जिले के 56 और अल्मोड़ा जिले के तीन शहीद सैनिकों के स्वजनों को अंगवस्त्र व ताम्रपत्र दिया गया।

Skand ShuklaSun, 28 Nov 2021 09:32 AM (IST)
हल्द्वानी में 59 शहीदों के स्वजनों का सम्मान किया, लेकिन आयोजन में खाना परोस दिया घटिया

जागरण संवाददाता, हल्द्वानी: शहीद सम्मान समारोह के तहत शनिवार को 59 शहीदों के स्वजनों को सम्मानित किया गया। नैनीताल जिले के 56 और अल्मोड़ा जिले के तीन शहीद सैनिकों के स्वजनों को अंगवस्त्र व ताम्रपत्र दिया गया। सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी ने कहा कि लामाचौड़ में सैनिकों के आश्रितों के लिए छात्रावास बनाया जाएगा। शहीदों के नाम पर सड़कों और स्कूलों का नामकरण होगा। हालांकि आयोजन के दौरान भोजन को लेकर बदइंतजामी दिखी। आयोजन में पहुंचे स्‍वजनों को घटिया खाना परोस दिया गया। जिसको लेकर उन्‍होंने नाराजगी भी जताई।

शहीद सम्मान यात्रा समारोह रामलीला मैदान में आयोजित किया गया। जीजीआइसी, सिंथिया व नुपुर कला केंद्र के बच्चों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए। मुख्य अतिथि शहरी विकास मंत्री बंशीधर भगत व सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी ने दीप जलाकर समारोह का शुभारंभ किया। भगत ने कहा कि कहा देश पर कुर्बान होने के लिए ही यहां के बच्चे जन्म लिया करते हैं। जहां पसीने की बात होती है, वहां खून देने को तैयार रहते हैं।

सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी ने नैना देवी, गर्जिया व कालूसिद्ध का स्मरण करते हुए जवानों में जोश जगाया। शहीदों का सम्मान-राष्ट्र का सम्मान नारा लगाते हुए कहा कि शहीदों की चिताओं पर लगेंगे हर बरस मेले, वतन पर मरने वालों का यही बाकी निशां होगा। उन्होंने कहा कि जिले में 56 अमर शहीद सैनिकों ने देश की रक्षा के लिए प्राणों की आहुति दी है। सैनिकों के सम्मान में देहरादून में सैन्यधाम बनाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार उपनल कर्मियों के लिए साढ़े सात प्रतिशत वार्षिक वेतन वृद्धि करेगी। स्ट्राइक कर रहे संविदा कर्मचारियों को भी आश्वस्त किया।

ये रहे मौजूद

समारोह में महापौर डा. जोगेन्द्र पाल सिंह रौतेला, जिला पंचायत अध्यक्ष बेला तोलिया, विधायक राम सिंह कैड़ा, जिलाध्यक्ष भाजपा प्रदीप बिष्ट, प्रदेश महामंत्री सुरेश भट्ट, पूर्व दर्जा मंत्री प्रकाश हर्बोला, प्रदीप जनौटी, प्रमोद तोलिया, हरीश भटट, ले. कर्नल (रि.) बीडी कांडपाल, जिला सैनिक कल्याण अधिकारी कैप्टन (रि.) आरएस धपोला, मेजर (रि.) बीएस रौतेला, कैप्टन (रि.) पुष्कर सिंह भंडारी, प्रभारी जिलाधिकारी डा. संदीप तिवारी, अपर जिलाधिकारी अशोक जोशी आदि मौजूद थे।

...और दी नसीहत

मुख्य अतिथि के देरी से पहुंचने पर लोगों को इंतजार करना पड़ा। सेवानिवृत्त मेजर जनरल इंदर सिंह बोरा ने कहा कि विशिष्ट सेवा सम्मान प्राप्त सैनिकों को दी जाने वाली धनराशि बहुत कम है। कहा कि हमारे देश में समय का मूल्य नहीं है। कोई कार्यक्रम किया जाता है तो लोगों को घंटों रुकना पड़ता है। ऐसे में कृपया टाइम पर आएं।

शहीदों के स्वजनों को परोसा खराब खाना

शहीदों के सम्मान में आयोजित कार्यक्रम का प्रचार-प्रसार लंबे समय से किया जा रहा है। जबकि कार्यक्रम के दौरान दूरदराज से आए शहीदों के स्वजनों के खाने के इंतजाम में लापरवाहीपूर्ण बरती गई। स्वजनों को खाना खिलाने की जिम्मेदारी पांच रुपये में खाना बांटने वाली एक संस्था को दी गई। खाने के पैकेट बहुत पहले ही तैयार करने के चलते सब्जी खराब हो गई और दुर्गंध आने लगी। जिसका विरोध भी स्वजनों ने किया। हिम्मतपुर मल्ला निवासी शहीद धन सिंह की पत्नी बसंती देवी व उनकी बेटी ने कहा कि इस खाने को खाकर लोग बीमार हो सकते हैं।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.