रुद्रपुर में स्क्रैप, किराना और कैंटीन की आठ दुकानों में लगी आग, लाखों का नुकसान

मेडिसिटी अस्पताल के पास अज्ञात कारणों के चलते स्क्रैप किराना और कैंटीन की आठ दुकानों में आग लग गई। इससे लाखों का सामान जलकर राख हो गया। सूचना पर पहुंचे दमकल के तीन वाहनों ने एक घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया।

Skand ShuklaSun, 05 Dec 2021 09:21 AM (IST)
रुद्रपुर में स्क्रैप, किराना और कैंटीन की आठ दुकानों में लगी आग, लाखों का नुकसान

जागरण संवाददाता, रुद्रपुर : मेडिसिटी अस्पताल के पास अज्ञात कारणों के चलते स्क्रैप, किराना और कैंटीन की आठ दुकानों में आग लग गई। इससे लाखों का सामान जलकर राख हो गया। सूचना पर पहुंचे दमकल के तीन वाहनों ने एक घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। फिलहाल आग लगने के कारणों की जांच की जा रही है।

किच्छा रोड पर तीनपानी स्थित मेडिसिटी अस्पताल के पास स्क्रैप, किराना और कैंटीन की कई दुकान है। रविवार सुबह करीब 6 बजे के आसपास एक दुकान में आग लग गई। देखते ही देखते आग भड़क गई और उसने अन्य दुकानों को भी चपेट में ले लिया। जिससे तीनपानी निवासी सलीम अंसारी की लकड़ी की स्क्रैप के गोदाम के साथ ही इलियाज, हयात की किराने, धर्म सिंह की कैंटीन और किराने, दीपक भंडारी की कैंटीन, चंदा पाल पत्नी मुकेश की चाय और किराने, जलीस पुत्र जमील के बिरयानी तथा जमीन के कबाड़ की दुकान भी धूं धूंकर जलने लगी।

यह देख मौके पर लोगों का जमावड़ा लग गया। इस पर किसी ने पुलिस और दमकल कर्मियों को सूचना दी। सूचना पर रुद्रपुर और पंतनगर से दमकल के तीन वाहनो को लेकर फायर कर्मी दीवान सिंह, चंद्र प्रकाश, नीरज जोशी, सुरेश सहित अन्य कर्मी पहुंच गए। करीब एक घंटे की मशक्कत के बाद दमकल वाहनों ने आग पर काबू पाया। फायर कर्मी दीवान सिंह ने बताया कि आग से हुए नुकसान का आंकलन किया जा रहा है। आग कैसे लगा, इसके कारणों की जांच की जा रही है।

कई सिलेंडर फटे, दो बाइक भी जली

चाय, बिरयानी और कैंटीन में गैस सिलेंडर भी रखे थे। आग लगने के बाद सिलेंडरों में भी आग लग गई। जिसके बाद सिलेंडर भी तेज धमाके के बाद फट गए। इससे आसपास के लोगों में हड़कंप मच गया। दमकल कर्मियों के मुताबिक आग से दो बाइक भी जलकर राख हो गए है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.