जिला पंचायत की बैठक, भाजपाइयों का हंगामा

जागरण संवाददाता, हल्द्वानी : जिला पंचायत की समीक्षा बैठक में एनएच व लोनिवि के अफसरों को उपस्थित नहीं देख भाजपा समर्थित जिला पंचायत सदस्यों का गुस्सा फूट गया। सदस्यों ने बैठक में हंगामा करने के साथ ही जिला पंचायत के निर्माण कार्यो में धांधली का आरोप लगाना शुरू कर दिया। इससे आधे घंटे तक अफरा-तफरी रही। सदस्यों ने कूड़ा निस्तारण उपकरण खरीद में भी घोटाले का आरोप लगाते हुए एसआइटी जांच की मांग उठाई। काठगोदाम स्थित सर्किट हाउस में मंगलवार को हुई बैठक में जिला पंचायत अध्यक्ष सुमित्रा प्रसाद ने अफसरों को जनप्रतिनिधियों द्वारा उठाई गई समस्याओं का प्राथमिकता से निराकरण करने के निर्देश दिए। भाजपा समर्थित सदस्यों ने पूर्व की किसी भी समस्या का समाधान न होने पर कड़ी नाराजगी जताई। जिला पंचायत सदस्य लाखन सिंह निगल्टिया व शांति भट्ट ने कूड़ा निस्तारण के लिए उपकरण खरीद मामलों में धांधली का आरोप लगाया। जनप्रतिनिधियों ने अपने-अपने क्षेत्र की विद्युत, स्वास्थ्य, सड़क, बिजली, पेयजल लाइनों व सिचाई गूलों के निर्माण आदि समस्याएं भी सदन में रखीं। मुख्य विकास अधिकारी विनीत कुमार ने अफसरों को जनप्रतिनिधियों की समस्याओं का तेजी से निस्तारण करने के निर्देश दिए। उन्होंने अफसरों से तालमेल बनाकर पारदर्शिता केकाम करने के लिए कहा। अपर मुख्य अधिकारी राजेश कुमार ने सदस्यों को राज्य वित्त की गाइडलाइन से अवगत कराया। बैठक में ये रहे मौजूद जिला पंचायत डॉ. हरीश बिष्ट, नीलम पाल, मीना रौतेला, सुरजीत सिंह, नवीन चंद्र मेलकानी, धीरज जोशी, विनोद कुमार, किरन जोशी सहित मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. भारती राना, जिला पूर्ति अधिकारी तेजबल सिह, अधिशासी अभियन्ता जलसंस्थान संतोष कुमार उपाध्याय, सीएओ डी कुमार, इंडियन गैस के रवि मेहता, मनोज कुमार गुप्ता, डीडी सती, आरसी पंत, एसबी सिह, जेपी सिह, केएस मेहता एमबी थापा आदि उपस्थित थे। बेतालघाट में नहरें क्षतिग्रस्त, धान पर संकट जिला पंचायत सदस्य पीसी गोरखा ने कहा कि बेतालघाट क्षेत्र में टूटी नहरों की वजह से किसान धान की रोपाई नहीं कर पाए। इस पर सिचाई विभाग ने 20 अक्टूबर तक नहरों की साफ-सफाई कर पानी की व्यवस्था सुचारू करने का आश्वासन दिया। नशे में धुत रहता है सिंचाई विभाग का कर्मचारी जिपं सदस्य बीर राम ने भी कहा कि ओखलकाडा क्षेत्र में सिचाई नहरों की सफाई व्यवस्था न होने के कारण किसानो को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। सिचाई विभाग का एक कर्मचारी हमेशा नशे में रहता है। जिससे अव्यवस्था बनी है। मुख्य विकास अधिकारी ने मामले की जांच कर कार्रवाई के निर्देश दिए। ओखलकांडा चिकित्सालय की एक्स-रे मशीन खराब जिला पंचायत सदस्य बीसी कफलटिया ने कहा कि ओखलकाडा चिकित्सालय में एक्सरे मशीन है। शासनादेश के बावजूद एक्सरे टेक्नीशियन न होने की वजह से मरीजों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। मुख्य चिकित्साधिकारी ने बताया कि स्टाफ की कमी की वजह से भवाली चिकित्सालय से एक्सरे टेक्नीशियन प्रत्येक बुधवार को ओखलकाडा चिकित्सालय में भेजा जाएगा। स्कूल-चिकित्सालय के 50 मीटर दूर शराब की दुकान जिपं उपाध्यक्ष पुष्कर सिह नयाल ने बताया कि तल्ला रामगढ़ क्षेत्र में अग्रेजी शराब की दुकान है। जिसके 50 मीटर के नजदीक स्कूल, चिकित्सालय व कार्यालय होने से लोग व स्कूली छात्र-छात्राएं परेशान रहती हैं। उन्होंने अग्रेजी शराब की दुकान को अन्यत्र शिफ्ट करने की मांग उठाई। स्रोत होने के बावजूद नहीं जोड़ी जा रही पाइप लाइन जिला पंचायत सदस्य कृष्णानंद कांडपाल ने कहा कि खलीगार जल स्रोत विगत चार सालों से पाइप लाइन से नहीं जोड़ा गया है। उन्होंने अफसरों के क्षेत्र में आने की जनप्रतिनिधियों को सूचना न देने का आरोप भी लगाया। साथ ही हैड़ाखान-मिडार रोड बनाने के लिए अधिग्रहीत भूमि का उचित मुआवजा किसानों को नहीं मिलने का मामला उठाया। सीडीओ ने इसकी जाच के आदेश दिए हैं। बजून-अधौड़ा के सैकड़ों परिवार भूस्खलन की जद में जिला पंचायत सदस्य गणेश मेहरा ने बताया कि बजून-अधौड़ा में सैकड़ों परिवार भूस्खलन की जद में आ गए हैं। प्रशासन क्षेत्रवासियों की समस्याओं के निस्तारण के लिए कुछ नहीं कर रहा है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.