रानीखेत में सड़क पर उतरे कांग्रेसी, पूर्व मंत्री यशपाल पर हमला करने वालों को गिरफ्तार करने की मांग

बाजपुर में पूर्व कैबिनेट मंत्री यशपाल आर्या व उनके विधायक पुत्र संजीव आर्या के काफिले पर हमले से पहाड़ में भी उबाल आ गया है। गुस्साए कांग्रेस कार्यकर्ता सड़क पर उतर आए। हमलावरों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई पर जोर देते हुए उच्च स्तरीय जांच की पुरजोर वकालत की।

Skand ShuklaSun, 05 Dec 2021 01:23 PM (IST)
रानीखेत में सड़क पर उतरे कांग्रेसी, पूर्व मंत्री यशपाल पर हमला करने वालों को गिरफ्तार करने की मांग

रानीखेत, जागरण संवाददाता : बाजपुर में पूर्व कैबिनेट मंत्री यशपाल आर्या व उनके विधायक पुत्र संजीव आर्या के काफिले पर हमले से पहाड़ में भी उबाल आ गया है। गुस्साए कांग्रेस कार्यकर्ता सड़क पर उतर आए। हमलावरों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई पर जोर देते हुए उच्च स्तरीय जांच की पुरजोर वकालत की। ताकि साजिश का पर्दाफाश कर असल आरोपितों की धरपकड़ की जा सके। विधायक करन सिंह माहरा ने पूरे प्रकरण पर राज्य सरकार की भी घेराबंदी कर अपराधीकरण को बढ़ावा दिए जाने का आरोप लगाया। 

कांग्रेस कार्यकर्ता रविवार को विधायक करन माहरा की अगुआई में नारेबाजी करते हुए गांधी चौक पर एकजुट हुए। बीते रोज बाजपुर में पूर्व मंत्री यशपाल व उनके पुत्र संजीव पर हमले की कड़ी भत्र्सना की। विधायक ने कहा कि भाजपाराज में महंगाई व बेरोजगारी तो पहले ही बेलगाम हो चुकी है। अराजकता व अपराध भी बेकाबू हो चले हैं। उन्होंने बाजपुर प्रकरण को इसका पुख्ता प्रमाण करार दिया।

दो टूक कहा कि यदि हमले की साजिश में शामिल असल आरोपित जल्द नहीं पकड़े गए तो कांग्रेसी चरणबद्ध आंदोलन को बाध्य होंगे। बाद में पुतला फूंक पूर्व मंत्री व विधायक पुत्र को सुरक्षा व्यवस्था मुहैया कराने पर भी जोर दिया गया। प्रदर्शन करने वालों में वरिष्ठ कांग्रेसी कैलाश पांडे, जिलाध्यक्ष महेश आर्या, नगर अध्यक्ष उमेश भट्ट, कार्यकारी अध्यक्ष पंकज जोशी, विनीत चौरसिया, चरनजीत जसवाल, हेमंत सिंह बिष्टï, विनय तिवारी, त्रिभुवन शर्मा, सोनू सिद्दीकी आदि शामिल रहे। 

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.