सीएमओ ने झेला आंदोलनकारियों का विरोध

सीएमओ ने झेला आंदोलनकारियों का विरोध
Publish Date:Tue, 29 Sep 2020 02:04 AM (IST) Author: Jagran

संवाद सहयोगी, गरमपानी : सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में विशेषज्ञ चिकित्सकों की तैनाती समेत अन्य मागों को लेकर धरने पर बैठे लोगों से वार्ता को पहुंची सीएमओ डा. भागीरथी जोशी को भारी विरोध का सामना करना पड़ा। आक्रोशित आदोलनकारियों ने करीब घटे भर उनके वाहन को रोक उन्हें खरी-खोटी सुनाई। आरोप लगाया कि नगर व शहरी क्षेत्रों में चिकित्सकों की तैनाती कर दी जाती है, पर ग्रामीण क्षेत्रों की लगातार उपेक्षा की जा रही है। चेतावनी दी कि यही स्थिति रही तो आदोलन और तेज कर दिया जाएगा।

सीएमओ ने आदोलनकारियों को जल्द समस्याओं के समाधान का भरोसा दिलाया। कहा कि वरीयता के आधार पर विशेषज्ञ चिकित्सकों की तैनाती कर दी जाएगी। साथ ही एंबुलेंस व अन्य व्यवस्थाओं को भी दुरुस्त किया जाएगा। आदोलनकारियों ने साफ कहा कि अब आश्वासनों से काम नहीं चलेगा। गावों की उपेक्षा कतई बर्दास्त नहीं की जाऐगी। आदोलनकारियों ने कहा कि व्यवस्थाएं लगातार बिगड़ती जा रही हैं, मगर सुधलेवा कोई नहीं है। सोमवार को धरने पर क्षेत्र पंचायत सदस्य धनियाकोट विनोद ढौडियाल व पूर्व सैनिक शिवराज सिंह बिष्ट बैठे। इस दौरान ग्राम प्रधान प्रेमनाथ गोस्वामी, क्षेत्र पंचायत सदस्य तुलसी देवी, व्यापार मंडल प्रदेश उपाध्यक्ष मनीष तिवारी, प्रदेश सचिव महिपाल सिंह बिष्ट, पूर्व ग्राम प्रधान पूरन लाल साह, नंदाबल्लभ नैनवाल, हीरा सिंह जंतवाल, देवकी देवी, प्रेमा देवी, लतिका आर्या, गीता आर्या, बसंती साह, भावना पिनारी, ममता पिनारी, कविता आदि मौजूद रहीं।

======================

घायल का इलाज न होने पर भड़के आंदोलनकारी

सीएमओ की आदोलनकारियों से वार्ता चल ही रही थी कि हाईवे से दुर्घटना के शिकार व्यक्ति को अस्पताल लाया गया। घायल व्यक्ति ने आरोप लगाया कि काफी देर इंतजार के बाद भी उसका इलाज नहीं किया जा रहा है। इससे आदोलनकारियों का पारा और चढ़ गया। सीएमओ के निर्देश पर घायल व्यक्ति का उपचार किया गया। वहीं बजेड़ी गाव से पहुंची गर्भवती को रेफर कर दिया गया, पर कुछ देर बाद ही अस्पताल की ही एक एएनएम ने गर्भवती का सुरक्षित प्रसव करा दिया। महिला के परिजनों ने अस्पताल में सुविधाओं को लेकर रोष जताया है।

=======================

समर्थन में उतरी टैक्सी यूनियन

12 सितंबर से साकेतिक धरने व उसके बाद बीते चार दिनों से क्रमिक अनशन पर डटे आदोलनकारियों को लगातार समर्थन मिल रहा है। पंचायत प्रतिनिधियों, व्यापारियों के बाद अब टैक्सी यूनियन भी खुलकर समर्थन में उतर आई है। सोमवार को आसपास के ग्रामीणों ने भी बढ़-चढ़कर आदोलन में भागीदारी की। बेतालघाट ब्लॉक के तल्ला व मल्ला वर्धो, कफूल्टा, बारगल, डोबा, बंसगाव, खैरनी, सीम, मझेडा़, धनियाकोट, सिमलखा आदि तमाम गावों के लोग आंदोलन में शामिल हुए।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.