बाजपुर में यशपाल आर्य के काफिले पर लाठी-डंडे से हमला, 13 लोग नामजद

पूर्व कैबिनेट मंत्री यशपाल आर्य व नैनीताल के निवर्तमान विधायक संजीव आर्य के काफिले पर पूर्व जिला पंचायत सदस्य कुलविंदर सिंह किंदा ने अपने एक दर्जन से अधिक समर्थकों के साथ लाठी-डंडों इत्यादि से हमला बोल दिया। जाति सूचक शब्दों का इस्तेमाल व जानलेवा हमला बोलने का आरोप लगाया है।

Prashant MishraSat, 04 Dec 2021 01:45 PM (IST)
यशपाल आर्य ने सैकड़ों कांग्रेस कार्यकर्ताओं व समर्थकों के साथ कोतवाली में धरना शुरू कर दिया है।

संवाद सहयोगी, बाजपुर : जिला कांग्रेस कमेटी के तत्वावधान में प्रस्तावित कार्यकर्ता सम्मान एवं सदस्यता ग्रहण समारोह में शिरकत करने बाजपुर आ रहे पूर्व कैबिनेट मंत्री यशपाल आर्य व नैनीताल के निवर्तमान विधायक संजीव आर्य के काफिले पर पूर्व जिला पंचायत सदस्य कुलविंदर सिंह किंदा ने अपने एक दर्जन से अधिक समर्थकों के साथ लाठी-डंडों इत्यादि से हमला बोल दिया। हमलावरों की तत्काल गिरफ्तारी की मांग को लेकर यशपाल आर्य ने सैकड़ों कांग्रेस कार्यकर्ताओं व समर्थकों के साथ कोतवाली में धरना शुरू कर दिया है। घटना की जानकारी के बाद आलाधिकारी भी बाजपुर पहुंच गए हैं। यशपाल आर्य की तरफ से 13 लोगों को नामजद करते हुए कोतवाली में तहरीर दे दी गई है।

शनिवार को श्रीरामभवन धर्मशाला के श्रीराम-जानकी मंडप हॉल में जिला कांग्रेस कमेटी की ओर से कार्यकर्ता सम्मान एवं सदस्यता ग्रहण समारोह प्रस्तावित है। इसी कार्यक्रम में शिरकत करने के लिए पूर्व कैबिनेट मंत्री यशपाल आर्य व नैनीताल के निवर्तमान विधायक संजीव आर्य व पूर्व दर्जा राज्यमंत्री हरेंद्र सिंह लाडी आदि श्रीरामभवन धर्मशाला आ रहे थे। इसी बीच नैनीताल-बाजपुर मुख्यमार्ग लेवड़ा नदी के पुल के निकट शमशान घाट के सामने पूर्व जिला पंचायत सदस्य कुलविंदर सिंह किंदा ने अपने एक दर्जन से अधिक समर्थकों के साथ हाथों में काले झंडों के साथ ही लाठी-डंडे इत्यादि लेकर यशपाल आर्य के काफिले को घेर लिया। जब तक वह कुछ समझ पाते विरोध-प्रदर्शन कर रहे किंदा गुट के युवा हमलावर हो गए। एकाएक हुई इस घटना से यशपाल आर्य समेत सभी लोग दंग रह गए। घटना की सूचना से पुलिस प्रशासन में भी हड़कंप मच गया। अानन-फानन पहुंची पुलिस ने किसी तरह यशपाल आर्य के वाहन को हमलावरों से मुक्त कराया।

धरने पर बैठे आर्य

गुस्साए यशपाल आर्य हजारों कांग्रेस कार्यकर्ताओं व अपने समर्थकों के साथ कोतवाली जा पहुंचे और हमलावरों को तत्काल गिरफ्तार करने की मांग को लेकर धरने पर बैठ गए। वहीं यशपाल आर्य की तरफ से कुलविंदर सिंह किंदा समेत 13 लोगों को नामजद करते हुए कोतवाली में तहरीर दी है जिसमें जाति सूचक शब्दों का इस्तेमाल करने व जानलेवा हमला बोलने का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग की है। कोतवाली में धरना देने वालों में पूर्व दर्जा राज्य मंत्री हरेंद्र सिंह लाडी, नैनीताल के निवर्तमान विधायक संजीव आर्य, कांग्रेस प्रदेश सचिव कैलाशी शर्मा, जिलाध्यक्ष जितेंद्र शर्मा, महिला जिलाध्यक्ष रीना कपूर, ब्लॉक प्रमुख सरिता देवी, सुभाष शर्मा, ब्लॉक प्रमुख पति राजकुमार, मुकुंद शुक्ला, दारा सिंह, डीके जोशी, व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष सत्यवान गर्ग, श्रीनिवास गर्ग, समीर पाठक, प्रेम सिंह यादव, रमेश यादव, तनवीर खां आदि शामिल थे। 

आर्य के समर्थकों पर किंदा ने लगाया आरोप

वहीं कुलविंदर सिंह किंदा ने कहा है कि वह शांति पूर्वक काले झंडों के साथ विरोध कर रहे थे। पूर्व कैबिनेट मंत्री यशपाल आर्य के समर्थकों द्वारा गाली-गलौज करते हुए हमला किया गया जिसके चलते विवाद बढ़ा है। उनकी तरफ से भी मारपीट की तहरीर कोतवाली में दी जा रही है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.