कबूतरबाजी से करोड़ों की ठगी करने वाला गिरफ्तार, लखनऊ व बरेली के युवक भी खेल में शामिल

फल्याटी निवासी पूरन सिंह पुत्र मोहन सिंह पर विदेश भेजने के नाम पर युवाओं के साथ ठगी करने का आरोप है। वह तुर्की में रहता था और पांच वर्ष पहले वहां से लौट आया। पिथौरागढ़ के लगभग 15 युवाओं को उसने पहले विदेश भेजा।

Prashant MishraPublish:Mon, 29 Nov 2021 04:01 PM (IST) Updated:Mon, 29 Nov 2021 04:01 PM (IST)
कबूतरबाजी से करोड़ों की ठगी करने वाला गिरफ्तार, लखनऊ व बरेली के युवक भी खेल में शामिल
कबूतरबाजी से करोड़ों की ठगी करने वाला गिरफ्तार, लखनऊ व बरेली के युवक भी खेल में शामिल

जागरण संवाददाता, बागेश्वर : विदेश भेजने के नाम पर युवाओं से करोड़ों रुपये की ठगी करने वाला कबूतरबाज पुलिस ने गिरफ्तार किया है। वह ढाई लाख रुपये एक व्यक्ति से लेता था। उसकी टीम में लखनऊ और बरेली के एक-एक आरोपित भी शामिल थे। अदालत ने आरोपित को जर्नी रिमांड देते हुए दादर हवेली पुलिस को सौंप दिया है।

गोगिनापानी, फल्याटी निवासी पूरन सिंह पुत्र मोहन सिंह पर विदेश भेजने के नाम पर युवाओं के साथ ठगी करने का आरोप है। वह तुर्की में रहता था और पांच वर्ष पहले वहां से लौट आया। पिथौरागढ़ के लगभग 15 युवाओं को उसने पहले विदेश भेजा। खटीमा के युवक मोहित से 50 हजार रुपये और उसका पासपोर्ट ले लिया। लेकिन उसे विदेश नहीं भेजा। पुलिस ने युवक के पैसे और पासपोर्ट लौटा दिया। 

आरोपित ने दादर नगर हवेली में कबूतरबाजी का जाल बिछा दिया। वहां चार माह पूर्व 35 लोगों से ढाई-ढाई लाख रुपये लिए और उन्हें एयरपोर्ट पर बुला लिया और वहां से खुद गायब हो गया। ठगी का शिकार हुए लोगों ने स्थानीय थाने में रिपोर्ट दर्ज की। बीती रविवार की शाम उपनिरीक्षक नीलेश कोटेगर की टीम कोतवाली पहुंची। कोतवाल जगदीश ढकरियाल ने स्थानीय स्तर पर टीम गठित की। आरोपित को मंडलसेरा से गिरफ्तार कर लिया। सोमवार को अदालत में पेशी के बाद उसे जर्नी रिमांड पर दादर नगर हवेली पुलिस को सुर्पुद किया गया। आरोपित को वहां की अदालत में पेश किया जाएगा।

देश में कई जगह की ठगी

आरोपित पूरन सिंह ने नागपुर, गुजरात, पिथौरागढ़ आदि स्थानों पर भी कबूतरबाजी का जाल बिछाया है। पिथौरागढ़ के लगभग 15 युवाओं को शुरू में उसने विदेश भेजा। जिसके बाद उसके संपर्क में कई युवा आने लगे। उसने ढाई लाख रुपये प्रत्येक युवा से शुल्क मांगा और उसके बाद वह पहाड़ छोड़कर चला गया।

मंडलसेरा में चला रहा था होटल

कबूतरबाज पूरन सिंह मंडलसेरा में होटल चला रहा था। दादर नगर हवेली के खानवेल थाने की पुलिस ने कोतवाली से संपर्क किया। वहां ठगे गए युवाओं के पास आरोपित की फोटो, नाम, पता आदि था। जिससे पुलिस आरोपित तक पहुंच गई। 

कोतवाल जगदीश ने बताया कि आरोपित पूरन सिंह ने करोड़ों की कबूतरबाजी की है। वह तुर्की में पांच वर्ष पहले था। इसबीच वह अपने गांव आता-जाता रहा। विदेश भेजने के नाम पर वह फर्जी वीजा भी देता था। वह पिछले तीन वर्ष से सक्रिय था। टीम में तीन लोग शामिल हैं। खटीमा, पिथौरागढ़ आदि स्थानों पर भी युवा ठगी के शिकार हुए हैं।