Uttarakhand : कुमाऊं के लिए ऊधम सिंह नगर में बनेगा एम्स, किच्छा में होगा ऋषिकेश एम्स का सेटेलाइट सेंटर

उत्तराखंड सरकार से कई बार कुमाऊं में एम्स खोलने की मांग उठी है। इसी आधार पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने कुमाऊं के ऊधम सिंह नगर जिले में एम्स ऋषिकेश का सेटेलाइट सेंटर स्थापित करने की अनुमति दे दी है। इसके लिए राज्य सरकार किच्छा में जमीन उपलब्ध कराएगी।

Prashant MishraSat, 30 Oct 2021 09:52 PM (IST)
कुमाऊं भर के मरीजों को एम्स में इलाज की सुविधा मिलेगी।

जागरण संवाददाता, हल्द्वानी : कुमाऊं में एम्स खोलने का रास्ता साफ हो गया है। भारत सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय ने ऊधम सिंह नगर में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) ऋषिकेश का सेटेलाइट सेंटर खोलने की अनुमति दे दी है। इससे कुमाऊं भर के मरीजों को एम्स में इलाज की सुविधा मिलेगी।

भारत सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के आर्थिक सलाहकार नीलांबुज शरण ने इस संबंध में एम्स ऋषिकेश के एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर डा. अरविंद राजवंशी को पत्र लिखा है। उन्होंने कहा है कि उत्तराखंड सरकार से कई बार कुमाऊं में एम्स खोलने की मांग उठी है। इसी आधार पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने कुमाऊं के ऊधम सिंह नगर जिले में एम्स ऋषिकेश का सेटेलाइट सेंटर स्थापित करने की अनुमति दे दी है। इसके लिए राज्य सरकार किच्छा में जमीन उपलब्ध कराएगी। राज्य सरकार ने किच्छा के प्राग फार्म में करीब 200 एकड़ भूमि चिन्हित की है।

डा. राजवंशी के निर्देशन में तकनीकी टीम का गठन

सेटेलाइट सेंटर के स्थापना की जिम्मेदारी एम्स ऋषिकेश के एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर डा. राजवंशी को दी गई है। उनके निर्देशन में एम्स ऋषिकेश के चीफ आर्किटेक्ट, सुप्रिन्टेंडेंट इंजीनियर व एम्स नई दिल्ली के चिकित्सा अधीक्षक सदस्य होंगे। यह टीम डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट (डीपीआर) तैयार करेगी।

स्वास्थ्य मंत्री व विधायक ने जताई खुशी

- स्वास्थ्य मंत्री डा. धन सिंह रावत का कहना है कि कुमाऊं एम्स की स्थापना राज्य के लिए बड़ी उपलब्धि है। इसके लिए पीएम, गृह मंत्री, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री व मुख्यमंत्री का आभार। राज्य में स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए यह बहुत बड़ी पहल है।

- किच्छा विधायक राजेश शुक्ला एम्स बनने से कुमाऊं के साथ ऊधम सिंह नगर नगर व किच्छा के लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मिलेंगी। इससे किच्छा का अभूतपूर्व विकास होगा। किच्छा की पहचान स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने में देश में होगी। एम्स स्वीकृत होने पर पीएम, सीएम व केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री का आभार जताता हूं।

सीएम से नजदीकियों का विधायक शुक्ला को मिला फायदा

किच्छा विधायक राजेश शुक्ला को सीएम पुष्कर सिंह धामी से नजदीकियों का फायदा मिला। अल्मोड़ा, रानीबाग सहित अन्य स्थानों में एम्स स्थापित करने को लेकर कयास लगाए जा रहे थे। इसमें बाजी विधायक शुक्ला ने मारी और किच्छा में एम्स स्थापित करवाने की पहली कड़ी में सफलता हासिल की। किच्छा के प्राग फार्म में करीब 200 एकड़ जमीन का प्रस्ताव विधायक शुक्ला ने करीब दो माह पहले भेजा था। सीएम धामी ने प्रधानमंत्री से कुमाऊं में एम्स की मांग की तो पीएम ने प्रस्ताव मांगा। सीएम ने प्रस्ताव भेजकर एम्स स्वीकृत भी करा लिया।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.