सवा दशक संघर्ष के बाद गरुड़ को मिली नगर पंचायत, अधिसूचना जारी, जल्द बैठेगा प्रशासक

नगर पंचायत गरुड़ की अधिसूचना जारी हो गई है। 15 साल बाद नगर पंचायत का गठन हुआ है। लंबे संघर्ष के बाद गरुड़ के लोगों की मुराद पुरी हुई है। नगर पंचायत बनाने की मांग को लेकर क्षेत्रवासियों ने लंबा संघर्ष किया।

Prashant MishraSat, 24 Jul 2021 11:50 PM (IST)
27 जनवरी 2019 को तत्कालीन मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने पुरड़ा में नगर पंचायत बनाने की घोषणा की।

चंद्रशेखर द्विवेदी, गरुड़। जिले की दूसरी नगर पंचायत गरुड़ की अधिसूचना जारी हो गई है। 15 साल बाद नगर पंचायत का गठन हुआ है। लंबे संघर्ष के बाद गरुड़ के लोगों की मुराद पुरी हुई है।

नगर पंचायत बनाने की मांग को लेकर क्षेत्रवासियों ने लंबा संघर्ष किया। वर्ष 2017 में एडवोकेट डीके जोशी के नेतृत्व में गरुड़-बैजनाथ नगर पंचायत बनाओ संघर्ष समिति का गठन भी किया गया। 15 जनवरी 2018 से संघर्ष समिति ने ऐतिहासिक गांधी चबूतरे पर नगर पंचायत बनाने के लिए अनिश्चितकालीन धरना शुरू कर दिया। 15 जनवरी वर्ष 2019 से भी अनिश्चितकालीन धरना किया गया। 27 जनवरी 2019 को तत्कालीन मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने पुरड़ा में नगर पंचायत बनाने की घोषणा की।

नगर पंचायत का क्षेत्रफल 245.482 हेक्टेयर

245.482 हेक्टेयर क्षेत्रफल में नगर पंचायत होगी, जिसकी वर्तमान में जनसंख्या 5002 है। नगर पंचायत की अधिसूचना जारी होने से संघर्ष समिति के संरक्षक एडवोकेट डीके जोशी, संयोजक एडवोकेट रमेश चंद्र सनवाल, उपाध्यक्ष लक्ष्मी दत्त पांडे, सचिव अखिल जोशी, उप सचिव सतीश जोशी, कोषाध्यक्ष महेश चंद्र पांडे आदि ने खुशी जाहिर की है।

यह गांव होंगे शामिल

गांव जनसंख्या क्षेत्रफल ( हेक्टेयर में )

बयालीसेरा 1512 1.31

स्याल्देटीट 383 4.421

भकुनखोला 885 42.651

गड़सेर ( आंशिक ) 604 38.68

टानीखेत 194 16.821

नौघर 874 32.444

सिल्ली ( आंशिक ) 280 8.667

फुलवाड़ीगूंठ 761 53.302

दर्शानी ( आंशिक)360 7.635

पाये ( आंशिक ) 510 19.948

यह होंगे फायदे

- कूड़े की समस्या से मिलेगी निजात

- सार्वजनिक शौचालय बनेंगे

- पैदल रास्तों की देखरेख

- पथ प्रकाश की व्यवस्था

- पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए नीति

इन्‍होंने जताई खुशी

नगर पंचायत बनने पर सभी लोगों को बधाई। आखिरकार संघर्ष रंग लाया। अब गरुड़ को एक नई पहचान मिलेगी। इससे तेजी से विकास होगा।

- डीके जोशी, एडवोकेट, संरक्षक नगर पंचायत बनाओ संघर्ष समिति

गरुड़ को नगर पंचायत बनाए जाने से कूड़े की समस्या से निजात मिलेगी। बिजली, पानी की समस्या नहीं रहेगी। अब व्यापार संघ को भी राहत मिलेगी।

- लक्ष्मी दत्त पांडे, अध्यक्ष व्यापार संघ

नगर पंचायत बनने से कई समस्याओं का समाधान होगा।सफाई व्यवस्था बेहतर होगी। नालियां साफ रहेंगी। सुनियोजित विकास को आगे बढ़ेगा गरुड़।

- अंकित जोशी, व्यापारी

गरुड़ नगर पंचायत की अधिसूचना जारी होने के बाद अब गजट नोटिफिकेशन होगा। नगर पंचायत भवन के लिए एक करोड़ की धनराशि नगर पालिका बागेश्वर के अधिशासी अधिकारी को प्राप्त हो गई है। भवन के लिए जमीन भी चयनित कर ली गई है।

- जयवर्धन शर्मा, एसडीएम, गरुड़

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.