प्रो. विनोद व प्रो. शरद को लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड

द इंस्टीट्यूशन आफ इंजीनियर्स (इंडिया) रुड़की लोकल सेंटर की ओर से अभियंता दिवस पर प्रोफेसर विनोद कुमार और प्रोफेसर शरद कुमार जैन को लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड प्रदान किया गया।

JagranThu, 16 Sep 2021 05:15 PM (IST)
प्रो. विनोद व प्रो. शरद को लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड

जागरण संवाददाता, रुड़की : द इंस्टीट्यूशन आफ इंजीनियर्स (इंडिया) रुड़की लोकल सेंटर की ओर से अभियंता दिवस पर प्रोफेसर विनोद कुमार और प्रोफेसर शरद कुमार जैन को लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड प्रदान किया गया। इनके अलावा अन्य अभियंताओं और वैज्ञानिकों को भी उत्कृष्ट कार्य करने के लिए विभिन्न वर्गों में पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया।

इंस्टीट्यूशन की ओर से आयोजित कार्यक्रम का आरंभ महान अभियंता मोक्षगुंडम विश्वेश्वरय्या की प्रतिमा पर माल्यार्पण करके किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि लेफ्टिनेंट जनरल विशम्भर सिंह (सेवानिवृत्त) ने कहा कि इंजीनियर्स नेशन बिल्डिग के हर क्षेत्र में अपना योगदान दे रहे हैं। उन्होंने अपने भारतीय सेना के इंजीनियरिग संबंधित अनुभव भी साझा किए। दी इंस्टीटूशन आफ इंजीनियर्स रुड़की लोकल सेंटर के अध्यक्ष डा. अचल कुमार मित्तल ने इंस्टीट्यूशन की उपलब्धियों के बारे में बताया। वहीं राजेंद्र चालीसगांवकर ने मोक्षगुंडम विश्वेश्वरय्या के जीवन परिचय पर प्रकाश डाला। इस अवसर पर वर्ष 2021 के लिए विभिन्न वर्ग में पुरस्कार प्रदान किया गया। एक्सीलेंस इन एकेडेमिक्स व रिसर्च (40 वर्ष से ऊपर वर्ग में) भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान रुड़की के डा. सुरेंद्र कुमार मिश्रा, डा. कौशिक पाल एवं डा. रजत रस्तोगी और 40 वर्ष से कम वर्ग में डा. निखिल धवन, डा. संजीव कुमार एवं केंद्रीय भवन अनुसंधान संस्थान रुड़की से मनोजीत सामंथा को सम्मानित किया गया। कंट्रीब्यूशन टुव‌र्ड्स इंडस्ट्रियल रिसर्च कैटेगरी में राष्ट्रीय जलविज्ञान संस्थान रुड़की के डा. अनिल कुमार लोहानी और केंद्रीय भवन अनुसंधान संस्थान रुड़की के डा. अजय चौरसिया तथा इंजीनियरिग एक्सीलेंस इन फील्ड व इंडस्ट्री कैटेगरी में सिचाई विभाग के शंकर कुमार साहा, बीएचइएल हरिद्वार के नविन काल व सिचाई विभाग के डा. सुभाष मित्रा को पुरस्कृत किया गया। इस दौरान जय कृष्णा आडिटोरियम का भी अनावरण किया गया। कार्यक्रम में सेंटर के सचिव प्रो. मोहम्मद अशरफ इकबाल, प्रो. प्रमोद अग्रवाल, डा. संजय कुमार जैन, प्रो. नरेंद्र कुमार समाधिया आदि उपस्थित रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.