हरिद्वार : बदमाशों ने परिवार को बंधक बनाकर डाली डकैती, लाखों के जेवरात और 80 हजार की नगदी ले उड़े

हरिद्वार के बहादराबाद के दौलतपुर में परिवार को बंधक बनाकर डकैती।

बहादराबाद के दौलतपुर में परिवार को बंधक बनाकर डकैती। लाखों के जेवरात और 80 हजार की नगदी ले उड़े बदमाश। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक समेत अधिकारियों ने लिया जायजा। पुलिस के मुताबिक दौलतपुर गांव में मुकेश थर्माकोल की भट्टी चलाता है।

Sunil NegiTue, 18 May 2021 11:22 AM (IST)

संवाद सूत्र, बहादराबाद (हरिद्वार)। बहादराबाद थानाक्षेत्र के दौलतपुर गांव में सोमवार रात नकाबपोश बदमाशों ने एक परिवार को बंधक बनाकर लाखों की डकैती को अंजाम दे डाला। तमंचे के बल पर डरा धमकाकर बदमाश लाखों के जेवरात और 80 हजार रुपये की नकदी लेकर फरार हो गए। काफी देर बाद परिवार ने शोर मचाकर पड़ोसियों को वारदात की सूचना दी। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सेंथिल अवूदई कृष्णराज एस सहित आला अधिकारियों ने मौका मुआयना की। पुलिस व एसओजी की टीमें बदमाशों की तलाश में जुटी हैं।

पुलिस के मुताबिक, बहादराबाद-धनौरी मार्ग पर दौलतपुर में संदीप गिरी का मकान है। बगल में अमीर हसन की थर्माकोल गलाने वाली भट्टी है। रात में चौकीदार मुकेश कुमार भट्टी पर रहता है। सोमवार देर रात करीब आठ-नौ नकाबपोश बदमाश थर्माकोल की भट्टी पर पहुंचे और मुकेश को तमंचे के बल पर काबू में करते हुए करीब तीन घंटे तक रुके रहे। चौकीदार से संदीप के घर में दाखिल होने का रास्ता पूछने और आस पास का जायजा लेने के बाद बदमाश पेड़ पर चढ़कर संदीप की छत पर पहुंच गए।

बाद में सीढ़ियों के रास्ते छह बदमाश घर के भीतर पहुंचे और तमंचे के बल पर संदीप व उनकी पत्नी, एक बेटे व भतीजे को बंधक बना लिया। जबकि तीन बदमाश छत पर रुककर निगरानी करते रहे। बदमाशों ने संदीप व उनकी पत्नी को डरा धमकाकर दूसरे कमरे में मौजूद अलमारी के ताले खुलवाए और 80 हजार की नकदी व जेवरात और तीन मोबाइल फोन लेकर फरार हो गए। बदमाशों के जाने के बाद भी परिवार दहशत में रहा। काफी देर बाद उन्होंने शोर मचाकर पड़ोसियों को जगाते हुए आपबीती बताई। 

परिवार को बंधक बनाकर डकैती की सूचना से पुलिस में हड़कंप मच गया। थानाध्यक्ष संजीव थपलियाल ने मौके पर पहुंचकर घटना की जानकारी ली और आला अधिकारियों को अवगत कराया। जिसके बाद वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सेंथिल अवूदई कृष्णराज एस, एसपी सिटी कमलेश उपाध्याय, सीओ सदर डा. विशाखा अशोक भडाणे ने मौके पर पहुंचकर पीड़ित परिवार से बात की और घटनास्थल का जायजा लिया। पुलिस व एसओजी ने बदमाशों की तलाश में काम्बिंग भी की, पर कोई सुराग नहीं मिल पाया। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सेंथिल अवूदई कृष्णराज एस ने बताया कि हर एंगल से मामले की छानबीन करते हुए बदमाशों की तलाश शुरू कर दी गई है। बहुत जल्द बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

बदमाशों ने पहले मांगा खाना, फिर पी चाय

डकैती को अंजाम देने से पहले बदमाशों ने परिवार को बंधक बनाने के बाद खाना मांगा। संदीप की पत्नी ने बताया कि खाना बना हुआ नहीं है, इस पर बदमाशों का कहना था कि चलो चाय ही बनाकर पिला दो। संदीप की पत्नी से चाय बनवाकर पीने के बाद ही वह नकदी, जेवर लेकर फरार हुए। पुलिस व ग्रामीण गनीमत मान रहे हैं कि बदमाशों ने परिवार के किसी सदस्य को कोई नुकसान नहीं पहुंचाया।

पुश्तैनी जमीन बिकने पर मिला था हिस्सा

पुलिस के अनुसार, संदीप मूलरूप से देवबंद सहारनपुर का निवासी है। उसके माता-पिता व भाई देवबंद रहते हैं। संदीप के परिवार में दो बेटे और एक बेटी है। उसका एक बेटा व बेटी देवबंद गए हुए हैं। संदीप खुद भी सोमवार को ही देवबंद से लौटा था। उसने पुलिस को बताया है कि कुछ दिन पहले पुश्तैनी जमीन बिकने पर उसे अपने हिस्से के रुपयेमिले थे। कुछ रकम उसने खर्च कर दी, उसके पास 80 हजार रुपये ही बचे थे।

चौकीदार मुकेश से पूछताछ कर रही पुलिस

पुलिस हर एंगल से छानबीन कर रही है। बगल में भट्टी पर चौकीदारी करने वाले मुकेश से भी पुलिस पूछताछ कर रही है। एसपी सिटी कमलेश उपाध्याय ने बताया कि फिलहाल किसी भी संभावना से इन्कार नहीं किया जा सकता है, इसलिए हर पहलू पर जांच की जा रही है।

 

यह भी पढ़ें-हरिद्वार में महिला ने प्रेमी के साथ मिलकर की थी पति की हत्या, ऐसे हुआ मामले का पर्दाफाश

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.