हरिद्वार: मृत महिला को जीवित बता बेची जमीन, पुलिस ने मास्टरमाइंड को किया गिरफ्तार; ऐसे सामने आया मामला

हरिद्वार में मृत महिला को जीवित दिखाकर फर्जीवाड़े के आरोपित को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपित ने ये षड़यंत्र अपने कुछ दोस्तों के साथ मिलकर रचा था। मामला उस वक्त सामने आया जब महिला का बेटा कागजात प्रमाणित कराने पहुंचा।

Raksha PanthriMon, 02 Aug 2021 03:00 PM (IST)
मृत महिला को जीवित बता बेची जमीन, पुलिस ने मास्टरमाइंड को किया गिरफ्तार।

जागरण संवाददाता, हरिद्वार। मृत महिला को जीवित बताकर उसकी जमीन बेचने के फर्जीवाड़े में एक आरोपित को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। बाकी आरोपितों की जांच चल रही है। पुलिस के मुताबिक, कमला नगर पथरी निवासी शरबती देवी ने वर्ष 1986 में भोगपुर क्षेत्र में रघुवीर सिंह जमीन खरीदी थी। तब से शरबती देवी ही जमीन की मालिक चली आ रही थी।

साल 2002 में शरबती देवी की मौत हो गई। 2010 में भोगपुर निवासी राजकुमार ने अपने कुछ साथियों के साथ मिलकर एक षड्यंत्र रचा। उसने एक महिला को शरबती देवी बताकर यह जमीन ज्वालापुर निवासी रजत जैन को बेच डाली। जबकि खुद शरबती देवी का बेटा बनकर गवाह के तौर पर हस्ताक्षर किए। साल 2019 में किसी व्यक्ति की जमानत लेने पर शरबती देवी का वास्तविक बेटा मेम कुमार जमीन के कागजात प्रमाणित कराने पहुंचा तो पता चला कि जमीन का मालिक रजत जैन है।

तब खोजबीन करने पर फर्जीवाड़ा करने वालों के नाम सामने आए थे। इस मामले में मेम कुमार ने ज्वालापुर कोतवाली में पांच जनवरी 2020 को कोर्ट के आदेश पर राजकुमार निवासी भोगपुर, रजत जैन निवासी शास्त्रीनकर ज्वालापुर आदि के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। ज्वालापुर कोतवाल चंद्र चंद्राकर नैथानी ने बताया कि उपनिरीक्षक उमेश कुमार व कांस्टेबल गणेश ने आरोपित राजकुमार को गिरफ्तार कर लिया है। चालान कर कोर्ट में पेश कर उसे जेल भेज दिया गया है।

------------------------------------ 

जमीन के नाम पर धोखाधड़ी करने पर छह पर मुकदमा

रुड़की में जमीन के नाम पर धोखाधड़ी करने के मामले में पुलिस ने महिला समेत छह के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। सिविल लाइंस कोतवाली पुलिस के मुताबिक जितेंद्र निवासी सदर थाना सहारनपुर का रुड़की के आदर्श नगर में एक प्लाट है। इस प्लाट की चहारदीवारी की गई है। इसके बराबर में आदर्श नगर निवासी गोविंद का घर है। आरोप है कि गोविंद ने षडयंत्र करके जितेंद्र कुमार की जमीन की दीवार को तोड़कर कब्जा कर लिया।

आरोप है कि जमीन पर कब्जा करने के साथ ही धोखे से जमीन की फर्जी नोटरी करा ली। जब पीड़ि‍त को इस बात का पता चला तो इसकी शिकायत सिविल लाइंस कोतवाली पुलिस से की गई। सिविल लाइंस कोतवाली प्रभारी निरीक्षक अमर चंद शर्मा ने बताया कि पुलिस ने जितेंद्र कुमार की तहरीर पर गोविंद, उसकी पत्नी, गोविंद का भाई निखिल, अलका, सुंदर लाल कौशिक और जय प्रकाश पर मुकदमा दर्ज किया है। कोतवाली प्रभारी निरीक्षक शर्मा ने बताया कि पुलिस मामले की छानबीन कर रही है। छानबीन के बाद मामले में कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़ें- धार्मिक पहचान छिपा बनाए शारीरिक संबध, दो बार कराया गर्भपात; युवती की जिद पर मंदिर ले जा रचाई फर्जी शादी

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.