Haridwar Kumbh Mela 2021: जूना अखाड़ा के तीन पदों पर नई नियुक्तियां, आचार्य महामंडलेश्वर ने प्रतिज्ञा कराई

अन्न क्षेत्र की शुरुआत मौके पर आचार्य महामंडलेश्वर अवधेशानंद गिरि और श्रीमहंत हरिगिरि। जागरण

Haridwar Kumbh Mela 2021 श्रीपंचदशनाम जूना अखाड़ा के तीन पदों पर नई नियुक्तियां की गई हैं। अखाड़े की परंपरा के अनुसार शनिवार को आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी अवधेशानंद गिरि की मौजूदगी में इन पदों के साधु-संन्यासियों के चयन को लेकर पुकार लगाई गई।

Raksha PanthriSun, 28 Feb 2021 01:06 PM (IST)

जागरण संवाददाता, हरिद्वार। Haridwar Kumbh Mela 2021 श्रीपंचदशनाम जूना अखाड़ा के तीन पदों पर नई नियुक्तियां की गई हैं। अखाड़े की परंपरा के अनुसार शनिवार को आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी अवधेशानंद गिरि की मौजूदगी में इन पदों के साधु-संन्यासियों के चयन को लेकर पुकार लगाई गई। बाद में आचार्य महामंडलेश्वर ने उन्हें पद व गोपनीयता की प्रतिज्ञा कराई।

नागा संन्यासियों के सबसे बड़े अखाड़े श्रीपंचदशनाम जूना अखाड़े के पंच परमेश्वर के गुरुवार, शुक्रवार और शनिवार को हुए आगमन के साथ ही अखाड़े के कुंभ मेले का आगाज हो गया है। इसके साथ ही अखाड़े में विभिन्न पदों पर नियुक्तियों के लिए पुकार का सिलसिला भी शुरू हो गया। शनिवार को मायादेवी मंदिर प्रांगण में श्रीदत्तात्रेय चरण पादुका पर आचार्य महामंडलेश्वर अवधेशानंद गिरि के सानिध्य तथा संरक्षक श्रीमहंत हरिगिरि महाराज के निर्देशन में तीन पदों पर पुकार की गयी।

श्रीमहंत मछन्दरपुरी ने सचिव पद पर श्रीमहंत गणपत गिरि के नाम की पुकार की। पूर्व सभापति श्रीमहंत सोहनगिरि महाराज ने रमता पंच के श्रीमहंत पद पर आनंदपुरी महाराज की, अष्टकौशल महंत के पद पर भोलापुरी महाराज के नाम की घोषणा करते हुए दत्तात्रेय चरण पादुका पर पुकार की।

आचार्य महामंडलेश्वर अवधेशानंद गिरि महाराज ने नव निर्वाचित पदाधिकारियों का माल्यापर्ण कर आर्शीवाद दिया तथा अखाड़े की उन्नति, प्रगति, गरिमा व सम्मान बढ़ाने के लिए निरन्तर निष्ठापूर्वक कार्य करने की प्रतिज्ञा करायी। संरक्षक श्रीमहंत हरिगिरि महाराज ने कहा कि तीनों नवनिर्वाचित पदाधिकारी उर्जावान तथा निष्ठावान हैं, इनके निर्देशन में अखाड़ा निश्चित रूप से प्रगति करेगा।

अखाड़े के वरिष्ठ उपाध्यक्ष श्रीमहंत विद्यानंद सरस्वती ने सभी पदाधिकारियों को आर्शीवाद देते हुए कहा कि इनके कार्यकाल में कुंभ मेला 2021 सफलतापूर्वक संपन्न होगा ही। अखाड़े की उन्नति व विकास में भी यह नए कीर्तिमान स्थापित करेंगे, जिससे हमारी युवा पीढ़ी प्रेरणा प्राप्त करेगी। अंतरराष्ट्रीय सभापति श्रीमहंत प्रेमगिरि महाराज ने सभी पदाधिकारियों को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि सभी के सहयोग से अखाड़ा विकास करे, इसका निरन्तर प्रयास करते रहना होगा।

इस अवसर पर अंतरराष्ट्रीय प्रवक्ता श्रीमहंत नारायण गिरि, सचिव श्रीमहंत महेशपुरी, श्रीमहंत मोहन भारती, पूर्व सभापति श्रीमहंत उमाशंकर भारती, श्रीमहंत शैलेन्द्र गिरि, श्रीमहंत हीरापुरी, श्रीमहंत भगीरथपुरी, श्रीमहंत केदारपुरी, श्रीमहंत वेदव्यासपुरी, श्रीमहंत देवेन्द्र पुरी, कोठारी महादेवानंद गिरि, थानापति नीलकंठ गिरि, रणधीर गिरि, आजाद भारती, विवेकपुरी, विमलागिरि आदि मौजूद थे।

यह भी पढ़ें- Magh Purnima Snan 2021: माघ पूर्णिमा पर लाखों श्रद्धालुओं ने लगाई आस्था की डुबकी, 15 कोरोना पॉजीटिव मिले

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.