Haridwar Kumbh Mela 2021: कुंभ मेला पुलिस को तीन मोर्चों पर तीन मंत्रों ने दिलाई सफलता

महाशिवरात्रि स्नान पर्व पर हरकी पैड़ी पर स्‍नान करते साधु संन्‍यासी।

Haridwar Kumbh Mela 2021 महाशिवरात्रि स्नान पर्व पर कुंभ मेला पुलिस ने एक साथ तीन-तीन मोर्चों पर खुद को साबित किया। सटीक कार्ययोजना कठिन परिश्रम और बेहतर तालमेल के तीन मंत्रों से पुलिस ने तीनों मोर्चों पर सफलता प्राप्त की।

Sunil NegiFri, 12 Mar 2021 11:31 AM (IST)

मेहताब आलम, हरिद्वार। Haridwar Kumbh Mela 2021 महाशिवरात्रि स्नान पर्व पर कुंभ मेला पुलिस ने एक साथ तीन-तीन मोर्चों पर खुद को साबित किया। सातों संन्यासी अखाड़ों का शाही स्नान पुलिस के लिए पहली प्राथमिकता था। दूसरी चुनौती लाखों श्रद्धालुओं का आवागमन और तीसरा स्नान पर्व की व्यस्तताओं के बीच नए मुख्यमंत्री का पहला हरिद्वार दौरा। सटीक कार्ययोजना, कठिन परिश्रम और बेहतर तालमेल के तीन मंत्रों से पुलिस ने तीनों मोर्चों पर सफलता प्राप्त की।

मकर सक्रांति, मौनी अमावस्या, बसंत पंचमी, माघी पूर्णिमा स्नान पर्व पर श्रद्धालुओं की संख्या उम्मीद से कम रही। लेकिन, महाशिवरात्रि स्नान पर्व पर सातों संन्यासी अखाड़ों को स्नान करना था। इसके लिए अलग-अलग स्तरों पर मैराथन बैठकों का दौर माघ पूर्णिमा स्नान के बाद से ही शुरू हो गया था। कुंभ मेला आइजी संजय गुंज्याल ने इसके लिए सातों अखाड़ों के प्रमुख संतों के साथ न सिर्फ अलग-अलग मुलाकात की, बल्कि तैयारियों और व्यवस्थाओं से अवगत कराते हुए उनसे समन्वय भी बनाए रखा। बाहर से आने वाले श्रद्धालुओं की बड़ी संख्या को देखते हुए भीड़ प्रबंधन व यातायात व्यवस्था दूसरी चुनौती था।

आइजी गुंज्याल ने जिलाधिकारी सी रविशंकर, कुंभ मेलाधिकारी दीपक रावत, मेला एसएसपी जन्मेजय प्रभाकर, एसएसपी हरिद्वार सेंथिल अवूदई कृष्णराज एस के साथ मिलकर कार्ययोजना तैयार की। अखाड़ों के स्नान और श्रद्धालुओं की भीड़ के बीच वीआइपी मूवमेंट सकुशल संपन्न कराने में भी मेला व जिला पुलिस के अधिकारियों का तालमेल काम आया। मेला पुलिस के साथ ही जिला पुलिस ने भी स्नान पर्व की व्यवस्थाओं और शिवालयों में जलाभिषेक संपन्न कराने में खूब पसीना बहाया। डीजीपी अशोक कुमार ने मेला व जिला पुलिस की पीठ थपथपाई।

यह भी पढ़ें-VIDEO Haridwar Kumbh Mela 2021: हरिद्वार में संन्यासी अखाड़ों ने शाही वैभव के साथ किया महाशिवरात्रि स्नान

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.