नेपाल से ही पति ने मोबाइल पर दिया तीन तलाक

जागरण संवाददाता, हरिद्वार: तीन तलाक के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। नेपाल बैठे एक व्यक्ति ने मोबाइल पर बातचीत के दौरान कहासुनी होने पर पत्नी को तीन बार तलाक बोल दिया। आरोपित रुड़की के लंढौरा का रहने वाला है और काम करने नेपाल गया है। पीड़िता ने ज्वालापुर कोतवाली में तहरीर दी। पुलिस ने उसे महिला हेल्पलाइन भेज दिया है।

ग्राम सराय निवासी ई-रिक्शा चालक सलीम अहमद ने करीब डेढ़ साल पहले अपनी बेटी फरजाना की शादी लंढौरा कस्बा निवासी सऊद पुत्र सोनू से की थी। सोनू ईंट भट्टों की चिमनी बनाने का काम करता है। चार नवंबर को वह अपने कुछ साथियों के साथ काम करने नेपाल गया था। उसी दौरान वह पत्नी को मायके में सराय छोड़ गया था। बुधवार को पत्नी के मोबाइल पर नेपाल के नंबर से पति ने कॉल की। दोनों के बीच किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई। आरोप है कि सऊद उर्फ सोनू ने पत्नी फरजाना को तीन बार तलाक बोलते हुए उसके साथ रिश्ता रखने से इनकार कर दिया। फरजाना ने इसकी जानकारी अपने परिवार को दी। उन्होंने दामाद से संपर्क किया और तीन तलाक की बाबत जानकारी ली। सऊद ने उनसे बातचीत में भी तलाक देने की बात कुबूल की और पत्नी को साथ रखने से इनकार कर दिया। मायके वालों का कहना है कि सऊद के लंढौरा निवासी परिवार से भी उन्होंने इस बारे में बातचीत की, पर उन्होंने भी कोई पहल नहीं की। तब पीड़िता को लेकर मायके वाले ज्वालापुर कोतवाली पहुंचे।

उन्होंने मोबाइल पर हुई बातचीत की रिकॉर्डिंग भी पुलिस को सुनाई। पुलिस ने उन्हें महिला हेल्पलाइन भेज दिया है। वहीं पीड़िता के मायके में इस घटना के बाद से कोहराम मचा है। उन्होंने पति के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। एसएसपी जन्मेजय प्रभाकर खंडूरी ने बताया कि इस मामले की जांच कराई जाएगी। अगर पति ने तीन तलाक दिया है तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.