रेंजर के खिलाफ क्रमिक अनशन पर बैठे कांग्रेसी

श्यामपुर के वन क्षेत्राधिकारी पर गंभीर आरोप लगाते हुए उन्हें हटाने के लिए सोमवार को कांग्रेसियों ने क्रमिक अनशन शुरू कर दिया।

JagranPublish:Mon, 25 Jan 2021 07:48 PM (IST) Updated:Mon, 25 Jan 2021 07:48 PM (IST)
रेंजर के खिलाफ क्रमिक अनशन पर बैठे कांग्रेसी
रेंजर के खिलाफ क्रमिक अनशन पर बैठे कांग्रेसी

संवाद सूत्र, लालढांग: श्यामपुर के वन क्षेत्राधिकारी पर गंभीर आरोप लगाते हुए उन्हें हटाने के लिए सोमवार को कांग्रेसियों ने क्रमिक अनशन शुरू कर दिया। कांग्रेसियों ने मांग पूरी होने तक क्रमिक अनशन जारी रखने की चेतावनी दी।

दो दिन पूर्व वन विकास निगम और वन विभाग ने संयुक्त रूप से कार्रवाई करते हुए रवासन नदी और कटेबड़ से पांच वाहनों को अवैध खनन में सीज किया था। स्थानीय कांग्रेस नेता गुरजीत लहरी का आरोप है कि वाहनों के कागजात पूरे थे। एक खनन कारोबारी ने इसका विरोध किया तो रेंजर विनय राठी ने जातिसूचक शब्द कहते हुए उनके साथ गालीगलौज की, जिसके बाद गुरजीत लहरी ने रेंजर से मोबाइल पर बात की। लहरी का आरोप है रेंजर ने उन्हें भी धमकी दी। लहरी ने श्यामपुर थाने में वन क्षेत्राधिकारी के खिलाफ तहरीर दी। सोमवार को कांग्रेसी नेता गुरजीत लहरी अपने समर्थकों के साथ श्यामपुर स्थित रेंज कार्यालय के बाहर क्रमिक अनशन पर बैठ गए। यूथ कांग्रेस के पूर्व जिलाध्यक्ष राजीव चौधरी ने भी क्रमिक अनशन में शामिल होकर मांग का समर्थन किया। वहीं प्रभागीय वनाधिकारी नीरज शर्मा ने बताया कि दोनों पक्षों को बुलाकर दोनों की बातें सुनी गई हैं। यह जांच का विषय है। रेकार्डिंग की जांच पुलिस अपने स्तर से करेगी। एसओ श्यामपुर दीपक कठैत ने बताया कि तहरीर के आधार पर जांच की जा रही है। जांच करने के बाद ही स्थिति स्पष्ट हो पाएगी। क्रमिक अनशन पर सुरेंद्र लहरी, अमरीक सिंह, विजेंद्र सैनी, प्रशांत सैनी, राजेंद्र सैनी, राहुल चौधरी, विपिन सैनी, संजय सैनी, विनोद सैनी उपस्थित रहे।

लहरी ने बनाया ट्रैक्टर छोड़ने का दबाव

हरिद्वार: कांग्रेस नेता गुरजीत लहरी के आरोपों को निराधार बताते हुए रेंजर ने आरोप लगाया कि लहरी ने खनन से लदे ट्रैक्टर ट्राली छोड़ने का दबाव बनाया। उसकी बात न मानने पर झूठे आरोप लगाए गए हैं और एडिट की गई रिकार्डिंग के आधार पर भ्रम फैलाया जा रहा है। रेंजर विनय राठी का कहना है कि उनकी दो बार गुरजीत लहरी से बात हुई है। वह रिकॉर्डिंग सुनाएं तो दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा। लहरी ने अभद्रता करते हुए ट्रैक्टर ट्राली छुड़ाने का दबाव बनाया है। जो रिकार्डिंग सुनाई जा रही है, वह पूरी तरह से एडिट की हुई है। आरोप बिल्कुल निराधार हैं। इस बारे में विभागीय अधिकारियों को रिपोर्ट भेज दी गई है।

लहरी संग पहले भी हो चुके विवाद

हरिद्वार: कांग्रेस नेता गुरजीत लहरी और विवादों का चोली दामन का साथ है। कुछ समय पहले एक टैंट कारोबारी को मोबाइल पर गालीगलौज और धमकी देने पर लहरी के खिलाफ श्यामपुर थाने में मुकदमा दर्ज किया गया था। गिरफ्तारी से बचने के लिए लहरी को हाईकोर्ट से स्टे लेना पड़ा था। ताजा विवाद में लहरी पर खनन से लदे ट्रैक्टर ट्रालियां छुड़वाने के लिए दबाव बनाने का आरोप लगा है। रेंजर ने इस मामले की लिखित शिकायत आला अधिकारियों से की है।