Uttarakhand Weather Upate : चोटियों पर बर्फबारी, उत्तरकाशी में ओलावृष्टि से भी भारी नुकसान

हाईवे मलबे से पटा होने के कारण शाम करीब चार बजे से आवागमन ठप है।

राज्य में मौसम का बदला मिजाज भारी परेशानी का सबब बना हुआ है। बुधवार को नैनीताल में हल्द्वानी-अल्मोड़ा हाईवे पर स्थित बाबा नीम करौली महाराज के प्रसिद्ध कैंची धाम में अतिवृष्टि से मलबा भर गया। हाईवे मलबे से पटा होने के कारण शाम करीब चार बजे से आवागमन ठप है।

Sumit KumarThu, 13 May 2021 08:10 AM (IST)

जागरण संवाददाता, देहरादून: राज्य में मौसम का बदला मिजाज भारी परेशानी का सबब बना हुआ है। बुधवार को नैनीताल में हल्द्वानी-अल्मोड़ा हाईवे पर स्थित बाबा नीम करौली महाराज के प्रसिद्ध कैंची धाम में अतिवृष्टि से मलबा भर गया। हाईवे  मलबे से पटा होने के कारण शाम करीब चार बजे से आवागमन ठप है। वहीं, बादल फटने के कारण टिहरी जिले के चंबा के समीप जौनपुर ब्लॉक के उनियाल गांव में कई खेतों की मिट्टी बह गई। साथ ही पेयजल लाइन व कई मार्ग क्षतिग्रस्त हो गए। हालांकि, यहां किसी तरह की जनहानि नहीं हुई है। उधर, बदरीनाथ, केदारनाथ, हेमकुंड साहिब, फूलों की घाटी समेत ऊंची चोटियों पर बर्फबारी हुई। उत्तरकाशी, सतपुली व कुमाऊं के कुछ क्षेत्रों में भारी ओलावृष्टि से फसलों को खासा नुकसान पहुंचा है।

वहीं, गुरुवार सुबह  को कई जिलों में घने बादल छाए रहने के साथ ही मौसम खराब रहा और बार‍िश हुई। केदारनाथ में सुबह से बर्फबारी होती रही। मसूरी में रात से ही घने बादल छाए रहने के साथ सुबह बारिश शुरू हो गई। राजधानी दून मेंं बार‍िश  हुई, ऋषिकेश व आसपास क्षेत्र में बादल छाए रहे, कोटद्वार और रुद्रप्रयाग में भी घने बादल छाए हैं, जबकि चमोली में भी मौसम खराब है। 

बुधवार शाम करीब चार बजे से एक घंटे तक लगातार कैंची धाम इलाके में मूसलधार बारिश जारी रही। जिससे मंदिर के समीप से गुजरने वाली शिप्रा नदी के पानी के तेज बहाव के साथ पहाड़ी की तरफ से भी मलबा मंदिर परिसर में घुसने लगा। इससे परिसर में स्थित साईं मंदिर के पुजारी करीब एक घंटे तक फंसे रह गए। स्थानीय युवाओं की मदद से उन्हें बमुश्किल सुरक्षित निकाला गया। स्थानीय निवासी सीडी तिवारी ने बताया कि बोल्डर आने से मुख्य मंदिर के पीछे के हिस्से को भी नुकसान हुआ है। गनीमत रही कि किसी तरह की जनहानि नहीं हुई।

उधर, टिहरी जिले के उनियाल गांव में भी शाम करीब चार बजे बादल फटने व आकाशीय बिजली गिरने के साथ दो घंटे मूसलाधार बारिश हुई। जिससे लगभग बीस खेतों की मिट्टी भारी मलबे की चपेट में आने से बह गई। काश्तकारों की नकदी फसलों का इससे काफी नुकसान हुआ है। वहीं, उत्तरकाशी के जिला मुख्यालय सहित भटवाड़ी, बाड़ागड़ी व चिन्यालीसौड़ क्षेत्र में दोपहर को भारी ओलावृष्टि हुई। जिससे फसलों को भारी नुकसान हुआ। जबकि मनेरी, भटवाड़ी में तेजी बारिश हुई। बारिश और ओलावृष्टि के कारण बरसाती गदेरे भी उफान पर आए। ओलावृष्टि के कारण नाशपाती, खुमानी, आडू, चुल्लु, पूलम की की बागवानी को भारी नुकसान हुआ। पौड़ी के सतपुली क्षेत्र में दोपहर को हुई मूसलाधार बारिश से पानी कई दुकानों व घरों में घुस गया। बारिश के कारण सतपुली-दुधारखाल मोटर मार्ग ग्राम खैरा के समीप मलबा आने से बाधित हो गया। करीब दो घंटे बाद मार्ग खुला। दून व मसूरी में दोपहर बाद बादलों के तेज गर्जन के साथ कुछ क्षेत्र में आधा घंटा तेज बारिश हुई।

यह भी पढ़ें- वन प्रभागों को जल्द वितरित होगी कैंपा की धनराशि, राज्य के लिए अनुमोदित किया 950 करोड़ का बजट

आज बारिश व ओलावृष्टि का ऑरेज अलर्ट

मौसम विज्ञान केंद्र देहरादून के पूर्वानुमान के अनुसार गुरुवार को उत्तरकाशी, चमोली, रुद्रप्रयाग व पिथौरागढ़ जनपदों में कहीं-कहीं भारी बारिश हो सकती है, साथ ही देहरादून, टिहरी, नैनीताल, अल्मोड़ा, व चंपावत जनपदों में कहीं-कहीं बारिश के साथ भारी ओलावृष्टि की भी संभावना है। इस दौरान मैदानी क्षेत्र में कहीं-कहीं 30 से 40 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चल सकती हैं। इसको देखते हुए मौसम विभाग ने ऑरेंज अलर्ट जारी किया है।

तापमान

शहर------अधि.-----  न्यून. देहरादून--- 32.0------ 20.1 मसूरी------ 22.5----- 12.2 टिहरी------ 21.4-------12.8 उत्तरकाशी- 26.3------ 12.9 हरिद्वार---- 36.4------- 23.1 जोशीमठ---- 20.8------- 10.1 अल्मोड़ा----- 27.6------- 13.1 मुक्तेश्वर---- 21.1------- 10.1 नैनीताल-----19.2-------- 08.3 पिथौरागढ़----24.4--------13.3 चम्पावत------20.1--------11.8 ऊधमसिंहनगर--33.2-------23.1

यह भी पढ़ें- मिशन हौसला के तहत दून पुलिस की नई पहल, कोरोना संक्रमितों को ऑटो एंबुलेंस से पहुंचाएगी अस्पताल

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.