बिपिन रावत के निधन से उत्‍तराखंड वासी स्‍तब्‍ध, सीएम धामी ने किया ट्वीट, जानें किस नेता ने क्‍या कहा

आज तमिलनाडु के कुन्नूर जिले में सीडीएस बिपिन रावत को ले जा रहा सेना का हेलीकाप्टर दुर्घटनाग्रस्‍त हो गया। इस हादसे में सीडीएस बिपिन रावत और उनकी पत्‍नी समेत 13 लोगों की मौत हो गई। इस समाचार से उत्‍तराखंड में शोक की लहर है।

Sunil NegiWed, 08 Dec 2021 07:27 PM (IST)
सीडीएस बिपिन रावत के निधन से उत्‍तराखंड वासी स्‍तब्‍ध।

जागरण संवाददाता, देहरादून। आज तमिलनाडु के कुन्नूर जिले में सीडीएस बिपिन रावत को ले जा रहा सेना का हेलीकाप्टर दुर्घटनाग्रस्‍त हो गया। इस हादसे में सीडीएस बिपिन रावत और उनकी पत्‍नी समेत 13 लोगों की मौत हो गई। इस समाचार से उत्‍तराखंड में शोक की लहर है। उत्‍तराखंड के राज्‍यपाल गुरमीत सिंह और सीएम पुष्‍कर सिंह धामी ने ट्वीट कर शोक संवेदन जताई। जाने किस नेता ने क्‍या कहा।

उत्‍तराखंड के राज्‍यपाल गुरमीत सिंह ने ट्वीट कर कहा कि

बहुत दुख की बात है

दुखद नुकसान, बहुत बड़ा नुकसान..

हार्दिक संवेदना।

जनरल बिपिन रावत, सीडीएस; हमारा गौरव, देश के पहला सीडीएस...; भारी नुकसान...

मुख्‍यमंत्री पुष्‍कर सिंह धामी ने ट्वीट कर कहा जनरल बिपिन रावत जी एक निष्ठावान और राष्ट्र के लिए सदैव समर्पित रहने वाले सैन्य अधिकारी थे। देश के पहले Chief of Defence Staff के रूप में उन्होंने अभूतपूर्व कार्य किए। उनका आकस्मिक निधन भारत और विशेष रूप से उत्तराखंड के लिए एक अपूरणीय क्षति है। मैं पूरे प्रदेश की ओर से शोकाकुल परिवार के लिए अपनी हार्दिक संवेदनाएं व्यक्त करता हूं तथा परमपिता परमेश्वर से प्रार्थना करता हूं कि पवित्र आत्मा को अपने श्री चरणों में यथोचित स्थान दे।

पूर्व मुख्‍यमंत्री हरीश रावत ने ट्वीट कर कहा कि चीफ आफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत नहीं रहे, यह अत्यधिक हृदय विदारक दु:खद घटना है, सारे देश को हिला देने वाली घटना है। हमारी गौरवशाली सेना के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत जी कुन्नूर तमिलनाडु में एमआई17 जो सबसे सुरक्षित हेलीकाप्टर माना जाता है, उसके दुर्घटनाग्रस्त होने से कालकल्वित हो गये हैं, उनके साथ 14 और लोग जिनमें उनकी पत्नी मधुलिका रावत जी, ब्रिगेडियर एलएस लिद्दर जी, ले. क. हरजिंदर सिंह जी, नायक गुरसेवक सिंह जी, नायक जितेंद्र कुमार जी, लांस नायक विवेक कुमार जी, लांस नायक बी. साई तेजा जी, हवलदार सतपाल जी, 3 टेक्निकल टीम के सदस्य भी कालकल्वित हो गये हैं, यह बहुत दु:खद घटना है।

भारत की महान सैन्य परंपरा के ध्वजवाहक जिन पर हम सबको गर्व है, उनको अकाल क्रूर काल ने हम सबसे छीन लिया है, जिसमें उनकी बहुत दु:खद मृत्यु हुई है जिसका हमें व सारे देश को गहरा आघात लगा है, उनके पिता लेफ्टिनेंट जनरल लक्ष्मण सिंह रावत जी भी तीसरी जनरेशन में सेना में थे, एक गौरवशाली सैन्य अधिकारी रहे और उप थल सेनाध्यक्ष रहे और हमारे उनसे घनिष्ठ पारिवारिक रिश्ते थे। देश की इस महान दु:ख की घड़ी में जनरल बिपिन रावत का जाना उत्तराखंड के लिए एक पारिवारिक त्रासदी भी है। जनरल रावत उत्तराखंड के महान सपूत हैं, उनका सपत्नी इस तरह चले जाना अत्यधिक दु:खद है। उत्तराखंड व देश अपने इस महान सपूत को नतमस्तक होकर श्रद्धांजलि अर्पित करता है। भगवान उनकी, उनके साथ स्वर्गवासी हुई उनकी पत्नी और उनके सहयोगियों की आत्मा को शांति प्रदान करें। हम सब उनके शोक संतप्त परिवार हैं। मेरी हार्दिक संवेदनाएं उनके आत्मीयजनों के साथ है।

पूर्व मुख्‍यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत त्रिवेंद्र सिंह रावत ने ट्वीट कर कहा कि एक उत्कृष्ट सैन्य जनरल के रूप में श्री रावत जी अपनी ईमानदारी और कर्तव्य निष्ठा के लिए सदैव याद किए जाएंगे। उनका असामयिक निधन राष्ट्र की अपूरणीय क्षति है। मैं प्रभु से प्रार्थना करता हूँ कि सभी शोकाकुल परिजनों को यह दुःख सहने की शक्ति दें।

मैं इस दुर्घटना में मृत जनरल बिपिन रावत, उनकी पत्नी श्रीमती मधुलिका रावत एवं सभी सैन्य कर्मियों की आत्मा की शान्ति की प्रार्थना करता हूँ। और बाबा केदार एवं भगवान बदरीविशाल से प्रार्थना करता हूँ कि सभी दिवंगत आत्माओं को सद्गति प्रदान करें।

ॐ शान्ति!

जिस बात का डर था वो ही हुआ, प्रदेश की शान और सीडीएस और मेरे मित्र जनरल बिपिन रावत जी हमारे बीच नहीं रहे। इस दुर्घटना में उनकी पत्नी मधुलिका जी का भी निधन हो गया है। मैं भगवान बदरीविशाल व बाबा केदार से विनती करता हूँ की दोनो दिवंगत आत्माओं को अपने श्री चरणों में स्थान दें।

यह भी पढ़ें:- सीडीएस बिपिन रावत के हेलीकाप्‍टर हादसे में मौत से उत्‍तराखंड वासी स्‍तब्‍ध

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.